पुलिस का एक रूप यह भी है और ऐसे पुलिस के रूप को देखकर ह्रदय गदगद हो जाता है धन्य हो ऐसी माता जिसने ऐसे पुलिसकर्मी को जन्म दिया और धन्य वह जिला और प्रदेश और उस जिले का प्रशासन और जनता भी है जहां पर यह तैनात होकर इस अद्भुत और अलौकिक कार्य को अंजाम दे रहा है हम जय हिंद करते हैं सलूट करते हैं ऐसे अपने पुलिस के जवानों को परंतु हमें जहां कमी दिखती है उस कमी को भी जरूर छाप पर है छुपाते नहीं जहां खूब ही दिखेगी वहां उस खूब को भी अपने दिल से स्वीकार करते हुए और जनता के सम्मुख जरूर प्रस्तुत करेंगे प्रकट करेंगे एक बार फिर जय हिंद जय भारत जय भारत की पुलिस फोर्स को सलाम है

पुलिस का एक रूप यह भी है और ऐसे पुलिस के रूप को देखकर ह्रदय गदगद हो जाता है धन्य हो ऐसी माता जिसने ऐसे पुलिसकर्मी को जन्म दिया और धन्य वह जिला और प्रदेश और उस जिले का प्रशासन और जनता भी है जहां पर यह तैनात होकर इस अद्भुत और अलौकिक कार्य को अंजाम दे रहा है हम जय हिंद करते हैं सलूट करते हैं ऐसे अपने पुलिस के जवानों को परंतु हमें जहां कमी दिखती है उस कमी को भी जरूर छाप पर है छुपाते नहीं जहां खूब ही दिखेगी वहां उस खूब को भी अपने दिल से स्वीकार करते हुए और जनता के सम्मुख जरूर प्रस्तुत करेंगे प्रकट करेंगे एक बार फिर जय हिंद जय भारत जय भारत की पुलिस फोर्स को सलाम है इस खाकी को जो अपनी जान की प्रवाह ना करते हुए अपने बीवी बच्चों से दूर रहते हुए इंसानियत और कोरोना जैसी महामारी के बीच में दीवार बनकर  खड़े हैं।
ओर कहीं मेरे देशवासी कोई गरीब आदमी और रोज कमा कर खाने वाला आदमी भूखा ना रह जाए इसका भी रख रहे हैं पूरा ध्यान इसीलिए कोई साधन ना मिलने पर खुद ही रिक्शा मैं राशन डालकर खुद चला कर जरूरतमंदों गरीबों के घर घर पहुंचा रहे हैं राशन।
 सलाम है ऐसे खाकी को फिर भी ना जाने क्यों लोग हमेशा खाकी को ही बदनाम करते हैं इल्जाम लगाते हैं आज इस महामारी में अगर कोई है तो सिर्फ हमारी खाकी और डॉक्टर ही है जो कोरोना  का डट कर कर रहे हैं मुकाबला कुछ खाकी वाले तो ऐसे भी हैं जो सिर्फ घर पर जाकर दूर से अपने बच्चों को निहारते हैं और एकांत में खाना खाकर वापस आ जाते हैं ना जाने कितने दिनों से अपने बच्चे को प्यार से सहलाया  तक नहीं ।


मैं धर्मेन्द्र राणा (जिला शामली संवाददाता) सलाम करता हूं ऐसे खाकी  को और करता रहूंगा जो अपनी जान की परवाह ना करते हुए कर रहे हैं गरीबों की मदद लड़ रहे हैं हमारे लिए हमारे देशवासियों के लिए ।


जय हिंद 


धर्मेंद्र राणा जिला( शामली संवाददाता )
मोबाइल नंबर 8755 64 7282


Popular posts
चार मिले 64 खिले 20 रहे कर जोड प्रेमी सज्जन जब मिले खिल गऐ सात करोड़ यह दोहा एक ज्ञानवर्धक पहेली है इसे समझने के लिए पूरा पढ़ें देखें इसका मतलब क्या है
13 दिसंबर स्वामी विद्यानंद गिरी महाराज की पुण्यतिथि प्रवर्तन योद्धा मोहन जोशी के जन्मदिन पर विशेष महावीर संगल जी
Image
अकबर महान पढा पर एक सच्चाई जो छुपाई गई देखें इस लेख में पवन सिंह तरार
Image
सावधान देश को अन देने वाला किसान सम्मान देने वाला पहलवान दोनों की आंखों में आंसू गैरों पे करम अपनों पर सितम
Image
इस लड़की का नाम अमृता कुमारी और पिता का नाम ब्रह्मा प्रसाद है कुशीनगर के पास जंगल चौरी गांव की रहने वाली है कोई लड़का बहका कर सिवान लेकर चला गया
Image