उमर बिन खत्ताब (रअ) आधी दुनिया में फैली उनकी हुकूमत थी, लेकिन ज़मीन पर सो जाते थे. पैबंद लगे कुर्ते पहनते थे। मौलाना अकरम बता रहे हैं पैगंबर मोहम्मद साहब के विषय में वह कैसे थे 

उमर बिन खत्ताब (रअ)


आधी दुनिया में फैली उनकी हुकूमत थी, लेकिन ज़मीन पर सो जाते थे. पैबंद लगे कुर्ते पहनते थे। मौलाना अकरम बता रहे हैं पैगंबर मोहम्मद साहब के विषय में वह कैसे थे


अदलो इंसाफ का ये आलम था कि अपने कंधे पर राशन रख कर बूढ़ी औरत के घर पहुंचा रहे थे और कह रहे थे, “अल्लाह से मेरी शिकायत न करना”.


तारीख में कोई ऐसा हुक्मरां नहीं आया☝️


*मौलाना मुहम्मद अकरम*
*राष्ट्रीय अध्यक्ष*
*एकता समाज समिति*
8445100911


Popular posts
चार मिले 64 खिले 20 रहे कर जोड प्रेमी सज्जन जब मिले खिल गऐ सात करोड़ यह दोहा एक ज्ञानवर्धक पहेली है इसे समझने के लिए पूरा पढ़ें देखें इसका मतलब क्या है
भ्रष्टाचार के विरुद्ध दुनिया का सबसे लंबा धरना मास्टर विजय सिंह महान युवा अब बूढ़ा हो चला थक गई आंखें इंतजार करते क्या कभी यह इंतजार खत्म होगा कोई ईमानदार शासक आएगा इस महान चेतन पर दृष्टिपात करेगा
Image
मत चूको चौहान*पृथ्वीराज चौहान की अंतिम क्षणों में जो गौरव गाथा लिखी थी उसे बता रहे हैं एक लेख के द्वारा मोहम्मद गौरी को कैसे मारा था बसंत पंचमी वाले दिन पढ़े जरूर वीर शिरोमणि पृथ्वीराज चौहान वसन्त पंचमी का शौर्य *चार बांस, चौबीस गज, अंगुल अष्ठ प्रमाण!* *ता उपर सुल्तान है, चूको मत चौहान
Image
कैराना कलस्यन खाप भवन भाजपा गांव चलो अभियान की समीक्षा करते स्थानीय नेता एवं कार्यकर्ता
Image
कर्मशील भारतीके नाटक क्रांति सूर्य ज्योतिराव फुले पर नंदलेश ने की परिचर्चा गोष्ठी
Image