संपादक महोदय हताश मत हो बात आपकी सच है नीचे से ऊपर तक निकम्मा प्रशासन ही और कहे तो शासन का भी बहुत बड़ा तबका इन्हीं निकम्मे लोगों से भरा है परंतु अब हताश होने की आवश्यकता नहीं है उस दृष्टि करता था तांडव नृत्य शुरू हो गया है अब इसकी जदमे सब निकम्मे भी आने वाली है इससे बच नहीं पाएंगे शांत चित् होकर देखते जाओ बहुत जल्द कुदरती तौर से ही इन निकमों का सफाया हो जाएगा


Popular posts
शामली पुलिस अधीक्षक की उप निरीक्षक तबादला एक्सप्रेस दर्जनों दरोगा इधर से उधर मेहरबान खान
Image
चार मिले 64 खिले 20 रहे कर जोड प्रेमी सज्जन जब मिले खिल गऐ सात करोड़ यह दोहा एक ज्ञानवर्धक पहेली है इसे समझने के लिए पूरा पढ़ें देखें इसका मतलब क्या है
शामली भाजपा नेता अरविंद संगल को कोर्ट ने भेजा जेल मेहरबान खान
Image
संजीव बालियान के भाई राहुल कुटबी का निधन 4 दिन में दो भाइयों की मौत
Image
शामली छेड़खानी जातिसूचक धारा में जेल में बंद अरविंद संगल को वादिया के उपस्थित ना होने पर कोर्ट से जमानत भक्तों में जश्न
Image