हाथरस की घटना बता रही है अपराधियों पर नहीं रहा है कुछ भी खूब योगी सरकार का योगी सरकार में गरीब लड़कियां नहीं है सुरक्षित देवेंद्र चौहान

प्रदेश में बेटियां सुरक्षित नहीं, नैतिकता के आधार पर मुख्यमंत्री दें इस्तीफा:सपा   देवरिया। हाथरस में एक बेटी के साथ शर्मशार करने की घटना सामने आने के बाद समाजवादी पार्टी(सपा) ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को नैतिकता के आधार पर इस्तीफा देने की मांग की है।   समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव रमा शंकर राजभर ने आज यहां " यूनीवार्ता " से कहा कि प्रदेश के मुख्यमंत्री जी बहुत हिम्मती हैं एंटी रोमियो बनाये थे सब हवा-हवाई है। जिस तरह कानपुर में अपराधियों की गाड़ी पलट दी थी उसी तरह हाथरस के आरोपियों की भी गाड़ी पलट दीजिये।अब देश और शर्मशार नहीं होना चाहता है।अगर ये नहीं कर सकते तो अविलम्ब इस्तीफा दे दीजिये।   उन्होंने कहा कि हाथरस में जिस बेटी के साथ जो घटना हुई है उसकी जितनी निंदा की जाए कम है। लेकिन भाजपा के शासनकाल की यह पहली घटना नहीं है। बेटी बचाओ भाजपा लाओ के नारे पर बनने वाली सरकार उत्तर प्रदेश के मुखिया बहुत साहसी मुखिया हैं। मुख्यमंत्री होने के बाद उन्होंने कहा एंटी रोमियो बनाता हूं, क्या हो गया हाथरस में कब आंख खुलेगी मुख्यमंत्री जी। आप मे यदि साहस है जिस तरह कानपुर में आपने गाड़ी पलटी थी हाथरस के आरोपियों की भी गाड़ी पलट दीजिये अन्यथा इस्तीफा दे दीजिए।अब देश और शर्मशार नहीन होना चाहता है।समाजवादी पार्टी इस घटना की घोर निंदा करती है और इस बेटी लड़ाई मजबूती के साथ लड़ेगी।  


Popular posts
चार मिले 64 खिले 20 रहे कर जोड प्रेमी सज्जन जब मिले खिल गऐ सात करोड़ यह दोहा एक ज्ञानवर्धक पहेली है इसे समझने के लिए पूरा पढ़ें देखें इसका मतलब क्या है
मत चूको चौहान*पृथ्वीराज चौहान की अंतिम क्षणों में जो गौरव गाथा लिखी थी उसे बता रहे हैं एक लेख के द्वारा मोहम्मद गौरी को कैसे मारा था बसंत पंचमी वाले दिन पढ़े जरूर वीर शिरोमणि पृथ्वीराज चौहान वसन्त पंचमी का शौर्य *चार बांस, चौबीस गज, अंगुल अष्ठ प्रमाण!* *ता उपर सुल्तान है, चूको मत चौहान
Image
एक वैध की सत्य कहानी पर आधारित जो कुदरत पर भरोसा करता है वह कुदरत उसे कभी निराश नहीं होने देता मेहरबान खान कांधला द्वारा भगवान पर भरोसा कहानी जरूर पढ़ें
उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा सभी जिला अधिकारियों के व्हाट्सएप नंबर दिए जा रहे हैं जिस पर अपने सीधी शिकायत की जा सकती है देवेंद्र चौहान
क्योंकि पूरी दुनिया में कारपेट बिछाने से अच्छा है कि हम अपने पैरों में ही जूता पहन लें..