क्या आज के लोकतंत्र में दाग रहित उम्मीदवार की कल्पना की जा सकती है जय हो सकता है अगर मतदाता चाहे मेहरबान खान

*एक ऐसा समाज,जिसमें उम्मीदवारों के दामन पर दाग न हों,व नफरत का जहर न उगलें..!* हालहि में बिहार में चुनाव होने वाले है और एक बार फिर उन्हें उम्मीदवार बनाया गया है जिनकी आपराधिक छवि जगजाहिर हैं! निर्वाचन आयोग काफी समय से इस प्रयास में लगा हुआ है कि आपराधिक पृष्ठभूमि के लोग विधानसभा या लोकसभा में न पहुंच सकें! लेकिन आयोग की कोशिश अभी तक सफल नहीं हो पाई, राजनीतिक दल किसी भी कीमत पर चुनाव जीतना चाहते हैं, इसलिए अगर हम चाहते हैं कि हमारी विधानसभा या लोकसभा में साफ-सुथरी छवि वाले ईमानदार लोग पहुंचें तो हमें ही कोशिश करनी होगी। हम जिस समाज में पैदा हुए हैं उसका अच्छा या बुरा होना उतना महत्त्वपूर्ण नहीं है, महत्त्वपूर्ण यह है कि हम आने वाली पीढ़ी को कितना बेहतर समाज देकर जा रहे हैं! हमें अपने वोट की ताकत से एक बेहतर समाज बनाने की कोशिश करनी होगी। एक ऐसा समाज, जिसमें उम्मीदवारों के दामन पर दाग न हों। व नफरत का जहर न उगलें व जब वोट मांगने आएं, तो हम उनकी शराफत, इंसानियत और ईमानदारी का बखान करें। पुलिस फाइल में उनके रिकॉर्ड न तलाशें। व जब जीत कर आएं तो हम गर्व से सीना तान कर कह सकें कि हां, हमने इन्हें चुना है। चुनाव आयोग की कोशिशें तभी सफल होंगी, जब मतदाता जागरूक होंगे!


Popular posts
चार मिले 64 खिले 20 रहे कर जोड प्रेमी सज्जन जब मिले खिल गऐ सात करोड़ यह दोहा एक ज्ञानवर्धक पहेली है इसे समझने के लिए पूरा पढ़ें देखें इसका मतलब क्या है
मत चूको चौहान*पृथ्वीराज चौहान की अंतिम क्षणों में जो गौरव गाथा लिखी थी उसे बता रहे हैं एक लेख के द्वारा मोहम्मद गौरी को कैसे मारा था बसंत पंचमी वाले दिन पढ़े जरूर वीर शिरोमणि पृथ्वीराज चौहान वसन्त पंचमी का शौर्य *चार बांस, चौबीस गज, अंगुल अष्ठ प्रमाण!* *ता उपर सुल्तान है, चूको मत चौहान
Image
एक वैध की सत्य कहानी पर आधारित जो कुदरत पर भरोसा करता है वह कुदरत उसे कभी निराश नहीं होने देता मेहरबान खान कांधला द्वारा भगवान पर भरोसा कहानी जरूर पढ़ें
उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा सभी जिला अधिकारियों के व्हाट्सएप नंबर दिए जा रहे हैं जिस पर अपने सीधी शिकायत की जा सकती है देवेंद्र चौहान
क्योंकि पूरी दुनिया में कारपेट बिछाने से अच्छा है कि हम अपने पैरों में ही जूता पहन लें..