मुजफ्फरनगर जिला कारागार में कैदियों को कंबल वितरित करते हुए देवराज पवार वरिष्ठ समाजसेवी



 *जिला कारागार में निरूद्ध बंदियोे को किये गए कम्बल वितरित*


मुजफ्फरनगर।जिला कारागार मुजफ्फरनगर में निरूद्ध बंदियोे को आज प्रमुख समाजसेवी कुंवर देवराज पंवार के सहयोग से गर्म कम्बल वितरित किये गये। कम्बल वितरित करते हुये श्री देवराज पंवार 


ने कहा कि गरीब असहाय बंदियों की इस प्रकार की मदद करना वास्तव में बहुत ही पुनित कार्य है। पता नही कौन बंदी किन हालात में अपराध कर जेल आ जाता है। ऐसे में पात्र एवं जरूरतमंद बंदियों की सहायता होती रहनी चाहिय। इस प्रकार के सामाजिक और पे्ररित कार्य सामाजिक संस्थाओं द्वारा समय-समय पर कराये जाते रहने चाहिये। ऐसे कार्यो में संस्थाओं की सहभागिता बहुत जरूरी एवं आवष्यक है। इससे जरूरतमंदो की मदद होती है। इस अवसर पर श्री ए0के0 सक्सेना, जेल अधीक्षक, जिला कारागार, मुजफ्फरनगर ने कहा

 कि जिला कारागार में निरूद्ध गरीब बंदियों के लिये कडाके की इस ठण्ड में सामाजिक संस्थाओं एवं सामाजिक बुद्धिजीवियों द्वारा समय समय पर मदद की जाती रही है। इससे गरीब बंदियों को काफी मदद मिल जाती है। उन्होने सभी का आभार एवं धन्यवाद प्रकट किया तथा आषा जताई कि भविश्य में यह सहयोग निरन्तर बना रहेगा। इस अवसर पर समाज सेवी नादिर राणा, उप जेलर श्री सुरेन्द्र मोहन सिंह, सुश्री मेघा राजपूत, उप जेलर, श्री प्रवीण तोमर आदि उपस्थित रहें।

Popular posts
चार मिले 64 खिले 20 रहे कर जोड प्रेमी सज्जन जब मिले खिल गऐ सात करोड़ यह दोहा एक ज्ञानवर्धक पहेली है इसे समझने के लिए पूरा पढ़ें देखें इसका मतलब क्या है
मत चूको चौहान*पृथ्वीराज चौहान की अंतिम क्षणों में जो गौरव गाथा लिखी थी उसे बता रहे हैं एक लेख के द्वारा मोहम्मद गौरी को कैसे मारा था बसंत पंचमी वाले दिन पढ़े जरूर वीर शिरोमणि पृथ्वीराज चौहान वसन्त पंचमी का शौर्य *चार बांस, चौबीस गज, अंगुल अष्ठ प्रमाण!* *ता उपर सुल्तान है, चूको मत चौहान
Image
उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा सभी जिला अधिकारियों के व्हाट्सएप नंबर दिए जा रहे हैं जिस पर अपने सीधी शिकायत की जा सकती है देवेंद्र चौहान
एक वैध की सत्य कहानी पर आधारित जो कुदरत पर भरोसा करता है वह कुदरत उसे कभी निराश नहीं होने देता मेहरबान खान कांधला द्वारा भगवान पर भरोसा कहानी जरूर पढ़ें
क्योंकि पूरी दुनिया में कारपेट बिछाने से अच्छा है कि हम अपने पैरों में ही जूता पहन लें..