उत्तराखंड गुदड़ी का नगीना आयशा फरहीन बनी जज कोम व गांव का नाम किया रोशन मेहरबान खान


मुबारकबाद आयशा फरहीन,


आयशा उत्तराखंड न्यायिक सेवा सिविल जज के हालिया परिणाम में 9वी रैंक पाकर गांव की पहली जज बन गई हैं,

आयशा के पिता सिर्फ पांचवी तक पढ़े हैं और मां कभी स्कूल ही नही गई। गांव में पांचवी से आगे का स्कूल नही है। खानदान मे वकालत पढ़ने वाली आयशा पहली लड़की हैं।