गाजियाबाद मुरादनगर चेयरमैन हरामखोर है 25 लोगों की जिंदगी खा गया पर दोषी नहीं


विकास त्यागी चेयरमैन मुरादनगर ने गाजियाबाद में प्रेस कॉन्फ्रेंस करके खुद को निर्दोष करार दिया


पत्रकार वार्ता में उन्होंने खुद ही खुद को निर्दोष करार दे डाला। साथ ही कहा कि शासन से मांग करता हूं कि इस घटना की उच्चस्तरीय जांच की जाए और जो भी दोषी हैं उनके खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की जाए। चेयरमैन ने कहा कि इस प्रकरण की जांच में यदि वह भी दोषी पाए जाए तो हर कार्रवाई के लिए तैयार हैं। उन्होंने मुख्यमंत्री से अनुरोध किया है कि दुर्घटना में हताहत हुए परिवारों को दी गई आर्थिक सहायता बढ़ाई जाए। उन्होंने कुछ राजनीतिक लोगों पर शव रखकर राजनीति करने का आरोप भी लगाया है। ---- जांच हुई नहीं, कर दिया 35 लाख का भुगतान





चेयरमैन विकास तेवतिया ने दावा किया कि ठेकेदार अजय त्यागी को करीब 55 लाख रुपये का ठेका उक्त भवन निर्माण का दिया गया था। अब तक करीब 35 लाख का भुगतान किया जा चुका है। अंत्यष्टि स्थल निर्माण की जांच से पहले यह भुगतान कर दिया गया है। चेयरमैन का दावा है कि परिषद में कोई कमीशनखोरी नहीं होती है। निर्माण कार्यों के ठेके ई-टेंडरिग प्रक्रिया के तहत दिए जाते हैं। सवाल किया गया कि संस्था के मुखिया होने के नाते निर्माण कार्य में घटिया सामग्री का उपयोग कैसे हो गया तो वह बोले कि जांच करना इंजीनियर और अधिशासी अधिकारी का काम है। बार-बार वह परिषद के अफसरों एवं अभियंताओं को इस हादसे का जिम्मेदार बताते रहे और खुद को निर्दोष बताते रहे। 


---- दुख बांटने गए नहीं


हादसे में दो दर्जन लोगों की जान चली गई है। कई परिवार उजड़ गए हैं लेकिन चेयरमैन को उनके घर जाकर दुख बांटने नहीं गए। उन्होंने दावा किया कि दो दिन से शहर से बाहर गए हुए थे। सोमवार को लौटे तो सीधे पहले पत्रकार वार्ता करने लगे। मुख्यमंत्री द्वारा इस प्रकरण की उच्चस्तरीय जांच कराई जा रही है लेकिन वह इससे भी बड़ी सीबीआइ जैसी एजेंसी से जांच कराए जाने की बात कह रहे हैं। कभी कहते हैं कि वह संस्था के मुखिया हैं और हर सही-गलत कार्य की जिम्मेदारी उनकी बनती है लेकिन पलटकर बोल रहे हैं कि हादसे में वह दोषी नहीं है।

Popular posts
चार मिले 64 खिले 20 रहे कर जोड प्रेमी सज्जन जब मिले खिल गऐ सात करोड़ यह दोहा एक ज्ञानवर्धक पहेली है इसे समझने के लिए पूरा पढ़ें देखें इसका मतलब क्या है
भ्रष्टाचार के विरुद्ध दुनिया का सबसे लंबा धरना मास्टर विजय सिंह महान युवा अब बूढ़ा हो चला थक गई आंखें इंतजार करते क्या कभी यह इंतजार खत्म होगा कोई ईमानदार शासक आएगा इस महान चेतन पर दृष्टिपात करेगा
Image
मत चूको चौहान*पृथ्वीराज चौहान की अंतिम क्षणों में जो गौरव गाथा लिखी थी उसे बता रहे हैं एक लेख के द्वारा मोहम्मद गौरी को कैसे मारा था बसंत पंचमी वाले दिन पढ़े जरूर वीर शिरोमणि पृथ्वीराज चौहान वसन्त पंचमी का शौर्य *चार बांस, चौबीस गज, अंगुल अष्ठ प्रमाण!* *ता उपर सुल्तान है, चूको मत चौहान
Image
कैराना कलस्यन खाप भवन भाजपा गांव चलो अभियान की समीक्षा करते स्थानीय नेता एवं कार्यकर्ता
Image
कर्मशील भारतीके नाटक क्रांति सूर्य ज्योतिराव फुले पर नंदलेश ने की परिचर्चा गोष्ठी
Image