किसानों की हर समस्या हर कठिनाई का हल मोदी के अनुसार ₹2000 सचिन तोमर मलकपुर देवेंद्र चौहान

 *ओर कितनी किसान हितेषी सरकार चाहिए दो हज़ार रुपये तो दे दिए और के चाह*



●पिछले 4 सालो मे गन्ने का भाव वहीं का वहीं है -----रै दो हज़ार रपे तो दे दिए मोदी ने


●टयूबवैल की बिजली का बिल 10000 से 22000 हो गया है----- र दो हज़ार तो दे दिए मोदी ने

●पेस्टीसाइड के दाम लगभग दोगुने हो गये है-- तो के हुया दो हज़ार तो दे दिए


●घर की बिजली पहले से तीन गुनी महंगी हो गयी है-----दो हज़ार तो दे दिए मोदी ने



●यूरिया का कट्टा 50 से 45 किलो का हो गया है---रै दो हज़ार तो दे दिए मोदी नै


●खेती के उपकरण लगभग डेढ गुने महंगे हो गये है----दो हज़ार तो दे दिए

●गन्ने का भुगतान भी पहली सरकारो की अपेक्षा बहुत कम हुआ है--- देख दो हज़ार😡


●सभी फसले MSP से आधे मूल्य पर खरीदी जा रही है--मैं नू कहु दो हज़ार तो दे दिए


●किसानो को डाई पर डायरेक्ट सब्सिडी देने का ड्रामा करके सब्सिडी खत्म कर दी --- रै दो हज़ार दिए किसी न इब लोक😡😡


●डीजल के दाम पर कोई लगाम नही , डीजल और पेट्रोल लगभग एक दाम मे बिक रहे है --- तू बावला है के दो हज़ार तो दे दिए😕

                       

                   ●●●●●●●●

हर बात का जवाब रुपये दो हज़ार🤫🤫🤫🤫

इब इन दो हज़ार को भी देख लो


लफ़्फ़ाज़ ने किसानों को चाँद बना दिया है- अब उनकी संख्या और आकार दोनों बदलते रहते हैं!


पीएम किसान निधि योजना के लाभार्थी: 


पहली किस्त: 10.26 करोड़ किसानों को


दूसरी किस्त: 9.89 करोड़ किसानों को


तीसरी किस्त: 9.00 करोड़ किसानों को


चौथी किस्त: 7.73 करोड़ किसानों को


पांचवीं किस्त: 6.48 करोड़ किसानों को


छठीं किस्त: 3.77 करोड़ किसानों को


सातवीं क़िस्त: 9 करोड़ किसानों को मिली है  (*ये आंदोलन की वजह से बढाने पड़े वरना इबकै 1 करोड़ को भी नही देते ये* ) 


सवाल है कि छठी में 6.12 करोड़ किसान ग़ायब कैसे हुए? और हुए तो सातवीं में वापस कैसे आ गए?


इबकै कोई पिल्ला भौंके न दो हज़ार दो हज़ार उसै नू कहियो तू डीज़ल ही 2014 के भा दुवा दे। 2000 तझै हर साल मैं दे दुंगा। 

साभार- सचिन तोमर लोयन मलकपुर

Popular posts
चार मिले 64 खिले 20 रहे कर जोड प्रेमी सज्जन जब मिले खिल गऐ सात करोड़ यह दोहा एक ज्ञानवर्धक पहेली है इसे समझने के लिए पूरा पढ़ें देखें इसका मतलब क्या है
मत चूको चौहान*पृथ्वीराज चौहान की अंतिम क्षणों में जो गौरव गाथा लिखी थी उसे बता रहे हैं एक लेख के द्वारा मोहम्मद गौरी को कैसे मारा था बसंत पंचमी वाले दिन पढ़े जरूर वीर शिरोमणि पृथ्वीराज चौहान वसन्त पंचमी का शौर्य *चार बांस, चौबीस गज, अंगुल अष्ठ प्रमाण!* *ता उपर सुल्तान है, चूको मत चौहान
Image
महान कृषि वैज्ञानिक धरतीपुत्र डॉक्टर रामधन सिंह जी की जयंती पर नमन करते हुए विकास पवार भारसी
Image
एक वैध की सत्य कहानी पर आधारित जो कुदरत पर भरोसा करता है वह कुदरत उसे कभी निराश नहीं होने देता मेहरबान खान कांधला द्वारा भगवान पर भरोसा कहानी जरूर पढ़ें
उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा सभी जिला अधिकारियों के व्हाट्सएप नंबर दिए जा रहे हैं जिस पर अपने सीधी शिकायत की जा सकती है देवेंद्र चौहान