राकेश टिकैत 8 मार्च में हो सकते हैं गिरफ्तार अदालती फरमान राकेश टिकैत के नाम

 राकेश टिकैत की 8 मार्च को गिरफ्तारी की तैयारी, अदालत के पुराने वारंट पर अमल की है योजना 


 




भोपाल । दिल्ली सीमा पर हो रहे किसान आंदोलन के नेतृत्वकर्ता राकेश टिकैत का 8 मार्च को मध्य प्रदेश में कार्यक्रम होना संभावित है। किसान रैली का आयोजन श्योपुर में होना तय है। इसी कार्यक्रम में शामिल होने भारतीय किसान यूनियन के नेता राकेश टिकैत एमपी आ सकते हैं। एमपी आने पर उन्हें गिरफ्तार किया जा सकता है।



टिकैत के खिलाफ साल 2016 में ही एमपी की एक अदालत ने अरेस्ट वारंट जारी किया था। इसी मामले में उनकी गिरफ्तारी की जा सकती है। बताया जा रहा है कि पुलिस ने इसकी सारी तैयारियां कर ली हैं। हालांकि इस पर खुलकर कोई बयान नहीं दे रहा है।

भारतीय किसान मजदूर महासंघ  के राष्ट्रीय अध्यक्ष व दिल्ली आंदोलन में राकेश टिकैत के सहयोगी शिव कुमार (कक्का जी) ने बताया कि टिकैत श्योपुर की रैली में शामिल हो सकते हैं। देशभर में उनका कार्यक्रम होना तय किया गया है। इसके तहत ही एमपी में भी रैली है। इसी रैली में वे शामिल हो सकते हैं। यहां वे राज्य के किसानों से मिलेंगे। वे उन्हें नए कृषि कानूनों से होने वाले नुकसान के बारे में बताएंगे।

पहले से लंबित है मामला

बता दें कि मध्य प्रदेश में टिकैत के खिलाफ एक मामला पहले से लंबित है। साल 2012 में अनूपपुर जिले में उनके खिलाफ हत्या की कोशिश और अव्यवस्था फैलाने के मामले में अरेस्ट वारंट जारी हो चुका है। अनूपपुर के जैतहरी इलाके में पावर प्लांट के खिलाफ प्रदर्शन का नेतृत्व करने 2012 में टिकैत यहां आए थे। प्रदर्शन के दौरान बड़े पैमाने पर हिंसा हुई थी। प्रदर्शनकारियों ने कई वाहनों में आग लगा दी थी, जिसमें कई पुलिसकर्मी भी घायल हुए थे। पुलिस ने इस मामले में टिकैत सहित 100 से ज्यादा लोगों के खिलाफ अव्यवस्था फैलाने, हथियारों के साथ अवैध रूप से प्रदर्शन करने और हिंसा फैलाने तथा हत्या की कोशिश करने का मामला दर्ज किया गया था। टिकैत को 2012 में ही इस मामले में जमानत मिल गई थी, लेकिन इसके बाद वे अदालत के सामने कभी पेश नहीं हुए। कई सुनवाइयों में अनुपस्थित रहने के बाद 2016 में इनके खिलाफ गिरफ्तारी वारंट अदालत ने जारी किया था।

Popular posts
चार मिले 64 खिले 20 रहे कर जोड प्रेमी सज्जन जब मिले खिल गऐ सात करोड़ यह दोहा एक ज्ञानवर्धक पहेली है इसे समझने के लिए पूरा पढ़ें देखें इसका मतलब क्या है
मत चूको चौहान*पृथ्वीराज चौहान की अंतिम क्षणों में जो गौरव गाथा लिखी थी उसे बता रहे हैं एक लेख के द्वारा मोहम्मद गौरी को कैसे मारा था बसंत पंचमी वाले दिन पढ़े जरूर वीर शिरोमणि पृथ्वीराज चौहान वसन्त पंचमी का शौर्य *चार बांस, चौबीस गज, अंगुल अष्ठ प्रमाण!* *ता उपर सुल्तान है, चूको मत चौहान
Image
एक वैध की सत्य कहानी पर आधारित जो कुदरत पर भरोसा करता है वह कुदरत उसे कभी निराश नहीं होने देता मेहरबान खान कांधला द्वारा भगवान पर भरोसा कहानी जरूर पढ़ें
उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा सभी जिला अधिकारियों के व्हाट्सएप नंबर दिए जा रहे हैं जिस पर अपने सीधी शिकायत की जा सकती है देवेंद्र चौहान
क्योंकि पूरी दुनिया में कारपेट बिछाने से अच्छा है कि हम अपने पैरों में ही जूता पहन लें..