उत्तर प्रदेश जर्नलिस्ट एसोसिएशन उपजा का होली मिलन समारोह

 उत्तर प्रदेश जर्नलिस्ट एसोसिएशन उपजा के तत्वाधान में रविवार को खेकड़ा के कोणार्क विद्यापीठ पर होली मिलन समारोह का आयोजन किया गया। इस अवसर पर अधिकांश  वक्ताओं ने पत्रकारिता की राह में आने वाली कठिनाइयों को देखते हुए संगठन के महत्व पर जोर दिया। 


     खेकड़ा के बड़ा गांव मार्ग स्थित कोणार्क विद्यापीठ पर उत्तर प्रदेश जर्नलिस्ट एसोसिएशन की बागपत इकाई की ओर से होली मिलन समारोह का आयोजन हुआ। संगठन के संरक्षक रामटेक शर्मा की अध्यक्षता में संपन्न हुए इस समारोह में शामिल होने वाले सभी पत्रकारों का गुलाल से तिलक लगाकर व शाल ओढ़ाकर स्वागत किया गया। इस अवसर पर वरिष्ठ पत्रकार योगेश कौशिक ने आज के हालात में संगठन की जरूरतों पर जोर दिया।


संजय त्यागी ने पत्रकारिता के मानदंडों पर प्रकाश डाला। किस अवसर पर संगठन के पूर्व महामंत्री धर्मपाल गिरी ने संगठन को मजबूत बनाने के लिए सभी पत्रकारों से एकजुट होने का आह्वान किया। अध्य्क्ष मनोज उज्ज्वल ने संगठन को मजबूत करने पर जोर दिया। इस मौके पर जिला स्तर पर पत्रकारों के लिए प्रेस क्लब की मांग उठी जिसपर जिलाध्यक्ष मनोज ने अधिकारियों से मिलकर समाधान करने का आश्वासन दिया। समारोह के आयोजक कोणार्क विद्यापीठ के प्रबंधक देवेंद्र धामा ने समारोह में शामिल होने वाले सभी पत्रकार साथियो के प्रति आभार जताया। समारोह में विद्या भवन पब्लिक स्कूल के प्रबंधक विपिन शर्मा, देव कृष्णा सीनियर सेकेंडरी स्कूल के प्रबंधक सोनू यादव वे जेपी अकैडमी के प्रबंधक विकास धामा उपस्थित रहे। संगठन महासचिव विजयमान की देखरेख के संपन्न इस कार्यक्रम का संचालन अरवाचीन पब्लिक स्कूल के प्रबंधक एवं पत्रकार साथी उमेश शर्मा व अध्यक्षता रामटेक शर्मा ने की। इस अवसर पर नरेश तोमर,गौरव तोमर, अमित शर्मा, अमित सैनी, गौरव कुमार, फोटो सिंह, शशि धाम, नीरज त्यागी, डॉ दीपक धामा, सचिन त्यागी, संजय त्यागी, संदीप दहिया, देवेंद्र चौहान,शमशाद अली, मेहंदी हसन आदि सहित चार दर्जन से अधिक पत्रकार शामिल रहे।

नोट। सभी पत्रकार साथी सभी साथियों के नाम शामिल कर लें। मेरे पास सूची उपलब्ध नही है। इसके लिये क्षमाप्रार्थी

Popular posts
चार मिले 64 खिले 20 रहे कर जोड प्रेमी सज्जन जब मिले खिल गऐ सात करोड़ यह दोहा एक ज्ञानवर्धक पहेली है इसे समझने के लिए पूरा पढ़ें देखें इसका मतलब क्या है
मत चूको चौहान*पृथ्वीराज चौहान की अंतिम क्षणों में जो गौरव गाथा लिखी थी उसे बता रहे हैं एक लेख के द्वारा मोहम्मद गौरी को कैसे मारा था बसंत पंचमी वाले दिन पढ़े जरूर वीर शिरोमणि पृथ्वीराज चौहान वसन्त पंचमी का शौर्य *चार बांस, चौबीस गज, अंगुल अष्ठ प्रमाण!* *ता उपर सुल्तान है, चूको मत चौहान
Image
एक वैध की सत्य कहानी पर आधारित जो कुदरत पर भरोसा करता है वह कुदरत उसे कभी निराश नहीं होने देता मेहरबान खान कांधला द्वारा भगवान पर भरोसा कहानी जरूर पढ़ें
उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा सभी जिला अधिकारियों के व्हाट्सएप नंबर दिए जा रहे हैं जिस पर अपने सीधी शिकायत की जा सकती है देवेंद्र चौहान
क्योंकि पूरी दुनिया में कारपेट बिछाने से अच्छा है कि हम अपने पैरों में ही जूता पहन लें..