यूपी सरकार योगी आदित्यनाथ का बड़ा फैसला

 *UP में धार्मिक स्थलों पर एक साथ 5 से अधिक के प्रवेश पर बैन, उपचार/बेड की संख्या सुचारू का आदेश*



उत्तर प्रदेश में तेजी से फ़ैल रेक कोरोना संक्रमण को देखते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बड़ा फैसला लिया है. प्रदेश के किसी भी धार्मिक स्थलों पर एक साथ 5 से अधिक लोगों के प्रवेश की अनुमति नहीं होगी. मस्जिद, गुरुद्वारा या चर्च में अब एक साथ सिर्फ  5 लोग ही प्रवेश कर सकेंगे. इसके साथ ही मुख्यमंत्री ने जनपद लखनऊ में कोरोना के उपचार के लिए एल-2 एवं एल-3 के पर्याप्त बेड की उपलब्धता सुनिश्चित करने के निर्देश दिये. उन्होंने कहा है कि लखनऊ में तत्काल कम से कम 2000 आईसीयू बेड की व्यवस्था की जाए, इसके बाद अगले एक सप्ताह में 2000 अतिरिक्त कोविड बेड का प्रबन्ध भी किया जाए.


जिलाधिकारी को जनपद लखनऊ के सभी कोरोना अस्पतालों में ऑक्सीजन की निरन्तर आपूर्ति सुनिश्चित कराने के भी निर्देश दिए. साथ ही एरा मेडिकल काॅलेज, टीएस मिश्रा मेडिकल काॅलेज तथा इण्टीग्रल मेडिकल काॅलेज को पूर्ण रूप से डेडीकेटेड कोविड अस्पताल के रूप में परिवर्तित किया गया है. बलरामपुर अस्पताल में 300 बेड का डेडीकेटेड कोविड अस्पताल 11 अप्रैल को सुबह से कार्यशील हो जाएगा. डेडीकेटेड कोविड अस्पताल में परिवर्तित किये जा रहे तीनों मेडिकल काॅलेजों तथा बलरामपुर चिकित्सालय में ट्रेंड मैनपावर की व्यवस्था के साथ ही, वेंटीलेटर एवं एचएफएनसी की उपलब्धता सुनिश्चित किये जाने के निर्देश भी दिए गए हैं.

Popular posts
चार मिले 64 खिले 20 रहे कर जोड प्रेमी सज्जन जब मिले खिल गऐ सात करोड़ यह दोहा एक ज्ञानवर्धक पहेली है इसे समझने के लिए पूरा पढ़ें देखें इसका मतलब क्या है
मत चूको चौहान*पृथ्वीराज चौहान की अंतिम क्षणों में जो गौरव गाथा लिखी थी उसे बता रहे हैं एक लेख के द्वारा मोहम्मद गौरी को कैसे मारा था बसंत पंचमी वाले दिन पढ़े जरूर वीर शिरोमणि पृथ्वीराज चौहान वसन्त पंचमी का शौर्य *चार बांस, चौबीस गज, अंगुल अष्ठ प्रमाण!* *ता उपर सुल्तान है, चूको मत चौहान
Image
महान कृषि वैज्ञानिक धरतीपुत्र डॉक्टर रामधन सिंह जी की जयंती पर नमन करते हुए विकास पवार भारसी
Image
एक वैध की सत्य कहानी पर आधारित जो कुदरत पर भरोसा करता है वह कुदरत उसे कभी निराश नहीं होने देता मेहरबान खान कांधला द्वारा भगवान पर भरोसा कहानी जरूर पढ़ें
उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा सभी जिला अधिकारियों के व्हाट्सएप नंबर दिए जा रहे हैं जिस पर अपने सीधी शिकायत की जा सकती है देवेंद्र चौहान