ललितपुर यूपी सिविल सीनियर न्यायधीश सेवा में जिला सूचना अधिकारी ललितपुर विचाराधीन कैदियों के संबंध में

 [6/1, 2:16 PM] dr. sunil kumar singh सिविल सीनियर न्यायधीश up: कार्यालय जिला विधिक सेवा प्राधिकरण, ललितपुर।




सेवा में,

जिला सूचना अधिकारी,

ललितपुर।


महोदय,


जिला ललितपुर के प्रमुख दैनिक समाचार पत्रों में निम्नांकित सूचना का निःषुल्क प्रकाषन कराने का कष्ट करें। 

        प्रेस विज्ञप्ति


माननीय उच्चतम न्यायालय, नई दिल्ली की हाई पाॅवर कमेटी द्वारा निर्गत दिषा निर्देषों के अनुपालन में माननीय जनपद न्यायाधीष ललितपुर श्री मोहम्मद रियाज द्वारा वैष्विक महामारी कोरोना को दृष्टिगत रखते हुए कारागारों में निरूद्ध विचाराधीन बन्दियों,जिनके प्रकरणों में अधिकतम सात वर्ष तक की कारावास की सजा दिये जाने का प्राविधान है, ऐसे बन्दियों को 60 दिन कि लिए अंतरिम जमानत पर रिहा किये जाने हेतु निर्देषित किया गया है। 

माननीय उच्चतम न्यायालय के आदेष के अनुपालन में आज दिनाॅक 01-06-2021 को प्रभारी मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट डा0 सुनील कुमार सिंह द्वारा 03 बन्दियों को अन्तरिम जमानत पर छोड़ा गया। माननीय उच्चतम न्यायालय के उक्त आदेष के अनुपालन में अभी तक कुल 56 बन्दियों को अन्तरिम जमानत पर छोड़ा जा चुका है। अन्तरिम जमानत पर छोड़े गये बन्दियों को निर्देषित किया गया है कि केन्द्र सरकार व राज्य सरकार व न्यायालय द्वारा निर्गत कोविड-19 के अंतर्गत निर्गत गाईड लाईन्स का अनिवार्यतः पालन करें। अब 60 दिनों के पश्चात इन बंदियों को पुनः न्यायालय के समक्ष आत्मसमर्पण कर के रेगुलर जमानत करवाना होगा। अंतरिम जमानत पर इन बंदियों को इस शर्त पर रिहा किया गया है कि वह जेल से छूटने के बाद सीधे अपने घर जाएंगे, किसी भी अपराधिक गतिविधि में लिप्त नहीं होंगे, सदाचार बनाए रखेंगे एवं बिना न्यायालय के अनुमति के अपने निवास वाले जिले से बाहर नहीं निकलेंगे।


भवदीय

दिनांकः- 01.06.2021      

        (डा0सुनील कुमार सिंह)

       प्रभारी सचिव,

     जिला विधिक सेवा प्राधिकरण,

       ललितपुर।






: हेड लाइन या सुर्खियों :-  अब तक कुल 56  बंदियों को अंतरिम जमानत पर रिहा किया जा चुका है ललितपुर में ।

Popular posts
चार मिले 64 खिले 20 रहे कर जोड प्रेमी सज्जन जब मिले खिल गऐ सात करोड़ यह दोहा एक ज्ञानवर्धक पहेली है इसे समझने के लिए पूरा पढ़ें देखें इसका मतलब क्या है
भ्रष्टाचार के विरुद्ध दुनिया का सबसे लंबा धरना मास्टर विजय सिंह महान युवा अब बूढ़ा हो चला थक गई आंखें इंतजार करते क्या कभी यह इंतजार खत्म होगा कोई ईमानदार शासक आएगा इस महान चेतन पर दृष्टिपात करेगा
Image
मत चूको चौहान*पृथ्वीराज चौहान की अंतिम क्षणों में जो गौरव गाथा लिखी थी उसे बता रहे हैं एक लेख के द्वारा मोहम्मद गौरी को कैसे मारा था बसंत पंचमी वाले दिन पढ़े जरूर वीर शिरोमणि पृथ्वीराज चौहान वसन्त पंचमी का शौर्य *चार बांस, चौबीस गज, अंगुल अष्ठ प्रमाण!* *ता उपर सुल्तान है, चूको मत चौहान
Image
कैराना कलस्यन खाप भवन भाजपा गांव चलो अभियान की समीक्षा करते स्थानीय नेता एवं कार्यकर्ता
Image
कर्मशील भारतीके नाटक क्रांति सूर्य ज्योतिराव फुले पर नंदलेश ने की परिचर्चा गोष्ठी
Image