युद्ध क्षेत्र सैनिक के लिए सामाजिक भावना युद्ध हराने में काफी देखे रूसी सैनिक की वीडियो क्या युद्ध नीति के अनुरूप है

एक रूसी सैनिक का धैर्य और संस्कार क्या युद्ध क्षेत्र में सही


है यह धैर्य और संस्कार सामाजिक दृष्टि से युद्ध की स्थिति से पहले की बात होती है आगर सभी समझदारी और प्रयास फेल हो जाते हैं और युद्ध ही अनिवार्य होता है उस अवस्था में सैनिक का धैर्य मात्र युद्ध में खड़े होने के लिए होना चाहिए ना के सामाजिक कुरीतियां उस समय हृदय की कमजोरी सैनिक को युद्ध की पूरी तस्वीर को पलटने में सहयोगी हो सकती है इसलिए सैनिक को चाहे बच्चा बूढ़ा औरत कोई भी क्यों ना हो सभी को दुश्मन की दृष्टि से देखना चाहिए जब तक के युद्ध में विजय हासिल ना हो जाए जीत हासिल के बाद अपनी नीति के अनुसार चाहे सामाजिक दृष्टि से कैसा व्यवहार करें परंतु युद्ध क्षेत्र में जैसा रूस का सैनिक वह वार कर रहा है यह सामान्य जनों के लिए अच्छी बात हो सकती है परंतु युद्ध नीति के लिए यह रूस के सैनिकों की कमजोरी दिखा रहा है ऐसे कमजोर सैनिकों को भावनात्मक रूप से कभी भी प्राप्त किया जा सकता है युद्ध क्षेत्र में सैनिक के अंदर भावनात्मक कमजोरी नहीं होनी चाहिए भगवान कृष्ण ने महारथी अर्जुन को गीता में यही उपदेश दिया था जो आज भी पारसंगीक।                    यहां पर तालिबानी बिल्कुल सही युद्ध नीति को इस्तेमाल करते हैं यही नीति भगवान श्री कृष्ण ने अर्जुन को गीता में कही थी दुनिया के महा नितिज्ञ चाणक्य नीति यही संदेश दिया था और शकुनि तो इससे भी चार कदम आगे की बात कहता था


इस रशियन की जगह तालिबानी होते तो क्या हाल कर देते बच्ची का..


एक छोटे से युक्रेनी बच्चे के अंदर देशभक्ति का कितना जज्बा भरा हुआ है,, ये अलग बात है की अपन यूक्रेन के खिलाफ है क्यूंकि वो हमेशा अंतर्राष्ट्रीय पटल पर हमारे खिलाफ रहा है

Popular posts
चार मिले 64 खिले 20 रहे कर जोड प्रेमी सज्जन जब मिले खिल गऐ सात करोड़ यह दोहा एक ज्ञानवर्धक पहेली है इसे समझने के लिए पूरा पढ़ें देखें इसका मतलब क्या है
मत चूको चौहान*पृथ्वीराज चौहान की अंतिम क्षणों में जो गौरव गाथा लिखी थी उसे बता रहे हैं एक लेख के द्वारा मोहम्मद गौरी को कैसे मारा था बसंत पंचमी वाले दिन पढ़े जरूर वीर शिरोमणि पृथ्वीराज चौहान वसन्त पंचमी का शौर्य *चार बांस, चौबीस गज, अंगुल अष्ठ प्रमाण!* *ता उपर सुल्तान है, चूको मत चौहान
Image
उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा सभी जिला अधिकारियों के व्हाट्सएप नंबर दिए जा रहे हैं जिस पर अपने सीधी शिकायत की जा सकती है देवेंद्र चौहान
एक वैध की सत्य कहानी पर आधारित जो कुदरत पर भरोसा करता है वह कुदरत उसे कभी निराश नहीं होने देता मेहरबान खान कांधला द्वारा भगवान पर भरोसा कहानी जरूर पढ़ें
क्योंकि पूरी दुनिया में कारपेट बिछाने से अच्छा है कि हम अपने पैरों में ही जूता पहन लें..