भारत में निंबू के साथ कहीं यह खेल तो नहीं हो रहा मेहरबान खान

 नींबू के साथ कहीं खेल तो नही हो रहा 

आपको ध्यान होगा कि

1974 में जब विदेशी ड्राई मिल्क पाउडर (सूखा दूध) जब मार्केट में आया तो कोई नही खरीद रहा था।

ये कम्पनियां बर्बाद होने को थी।

तब इन्होंने BAD MARKETING का एक घटिया तरीका निकाला।

उन्होंने रोज़ाना मार्केट से सारा दूध चुपचाप से खरीद के नालियों में फिकवाना शुरू कर दिया।

लोगों के पास सूखा दूध खरीदने के अलावा कोई और विकल्प नही बचा।

लगभग तीन महीने ये गंदा खेल चलता रहा। बाद में वही विदेशी प्रोडक्ट मार्केट में डिमांड पे आ गया।

सूखे दूध के दाम भी बढ़ाए और सारा खर्चा निकाल लिया। *1974 के बाद अब नींबू महंगा होने के पीछे कहीं कोल्ड ड्रिंक बनाने वाली कंपनियों की यही ट्रिक तो नहीं।* 


*मंथन कीजिएगा ।* 


*पिछले 2 सालों में कोका कोला, पेप्सी को भारत में बहुत घाटा हुआ और आज भी इन अमेरिकी केमिकल वाली बोतलों को कोई नहीं खरीद रहा।* 


*कहां जा रहे है नींबू? किसानों से तो आज भी 25 से 30 रू किलो ही खरीदे जा रहे हैं फिर भी मार्किट में 10 गुना ज्यादा दाम पर कैसे बिक रहे हैं। इन विदेशी कोल्ड ड्रिंक की चाल को समझिए और शिकंजी की जगह गन्ने का जूस, नारियल पानी, गुलाब रस, बेल शर्बत और आम पन्ना पिएं और पिलाएं। नींबु 1 महीने में ही 50 रू पर आ जाएगा।*


*स्वदेशी अपनाओ, अमेरिकी कोल्ड ड्रिंक भगाओ।भगाओ।*


जय हिन्द 🚩

Popular posts
चार मिले 64 खिले 20 रहे कर जोड प्रेमी सज्जन जब मिले खिल गऐ सात करोड़ यह दोहा एक ज्ञानवर्धक पहेली है इसे समझने के लिए पूरा पढ़ें देखें इसका मतलब क्या है
एक वैध की सत्य कहानी पर आधारित जो कुदरत पर भरोसा करता है वह कुदरत उसे कभी निराश नहीं होने देता मेहरबान खान कांधला द्वारा भगवान पर भरोसा कहानी जरूर पढ़ें
उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा सभी जिला अधिकारियों के व्हाट्सएप नंबर दिए जा रहे हैं जिस पर अपने सीधी शिकायत की जा सकती है देवेंद्र चौहान
मत चूको चौहान*पृथ्वीराज चौहान की अंतिम क्षणों में जो गौरव गाथा लिखी थी उसे बता रहे हैं एक लेख के द्वारा मोहम्मद गौरी को कैसे मारा था बसंत पंचमी वाले दिन पढ़े जरूर वीर शिरोमणि पृथ्वीराज चौहान वसन्त पंचमी का शौर्य *चार बांस, चौबीस गज, अंगुल अष्ठ प्रमाण!* *ता उपर सुल्तान है, चूको मत चौहान
Image
क्योंकि पूरी दुनिया में कारपेट बिछाने से अच्छा है कि हम अपने पैरों में ही जूता पहन लें..