भाजपा सांसद वरुण कुमार भगोड़ा घोषित चौराहों पर लगेंगे पोस्टर शाहजहांपुर कोर्ट

 कोर्ट ने भाजपा सांसद अरुण कुमार सागर को किया भगोड़ा घोषित, कहा- सार्वजानिक स्थानों पर चस्पा हो आदेश



शाहजहांपुर।खबर उत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर जिले से है। यहां एमपी-एमएलए कोर्ट ने भारतीय जनता पार्टी के सांसद अरुण कुमार सागर को भगोड़ा घोषित कर दिया है। 2019 में लोकसभा चुनवा के दौरान अरुण सागर पर आचार संहिता उल्लंघन का मुकदमा दर्ज हुआ था। चुनाव जीतने के बाद भाजपा सांसद अरुण सागर को कई बार समन भेजे गए, लेकिन सांसद ने उस ओर कभी कोई ध्यान नहीं दिया। 


विशेष लोक अभियोजन अधिकारी नीलिमा सक्सेना ने बुधवार को बताया कि लोकसभा चुनाव के दौरान 12 मार्च 2019 को तत्कालीन उप जिलाधिकारी सदर ने बरेली-जलालाबाद मार्ग पर भाजपा प्रत्याशी अरुण सागर की प्रचार सामग्री को जब्त किया था।इस मामले में कांट थाने में मुकदमा दर्ज कराया गया था। कई बार समन के बावजूद भाजपा सांसद अदालत में पेश नहीं हुए।


*NBW जारी होने के बाद भी पेश नहीं सांसद*


नीलिमा सक्सेना ने बताया कि इसी मामले में भाजपा सांसद अरुण सागर कई बार समन के बावजूद अदालत में पेश नहीं हुए और इसके बाद उनके विरुद्ध अदालत ने गैर जमानती वारंट जारी कर दिया।उन्होंने बताया कि जब वारंट जारी होने के बाद भी वह अदालत में हाजिर नहीं हुए, तब न्यायाधीश आसमां सुल्ताना ने गत 21 नवंबर को उन्हें फरार घोषित कर दिया।


*आदेश की प्रति सार्वजनिक स्थान पर लगाने का ऑर्डर*


नीलिमा सक्सेना ने बताया कि अदालत द्वारा दिए गए आदेश में कहा गया है कि ऑर्डर की कॉपी को सांसद के आवास के साथ ही सार्वजनिक स्थानों पर भी चस्पा किया जाए।वहीं कोर्ट से वारंट जारी होने के बाद पुलिस सांसद के घर नोटिस चस्पा करने की तैयारी कर रही है।फिलहाल सांसद के खिलाफ वारंट जारी होने से भाजपा पार्टी मे इस लापरवाही के लिए चर्चा का विषय बना हुआ है।


*भाजपा सांसद ने फरार होने की जानकारी से किया इनकार*


भाजपा सांसद अरुण कुमार सागर ने इस बारे में जानकारी होने से साफ इनकार किया है। उन्होंने बताया कि समर्थक ने होर्डिंग लगवाया था। जिस पर आचार संहिता के उल्लंघन का मुकदमा दर्ज हुआ था। उनका भी नाम उसमें था। इसके बाद से वकील के माध्यम से वह अपना पक्ष न्यायालय में रख रहे थे। उनके विरुद्ध क्या आदेश जारी हुआ है। इसकी जानकारी नहीं है।

Popular posts
चार मिले 64 खिले 20 रहे कर जोड प्रेमी सज्जन जब मिले खिल गऐ सात करोड़ यह दोहा एक ज्ञानवर्धक पहेली है इसे समझने के लिए पूरा पढ़ें देखें इसका मतलब क्या है
मत चूको चौहान*पृथ्वीराज चौहान की अंतिम क्षणों में जो गौरव गाथा लिखी थी उसे बता रहे हैं एक लेख के द्वारा मोहम्मद गौरी को कैसे मारा था बसंत पंचमी वाले दिन पढ़े जरूर वीर शिरोमणि पृथ्वीराज चौहान वसन्त पंचमी का शौर्य *चार बांस, चौबीस गज, अंगुल अष्ठ प्रमाण!* *ता उपर सुल्तान है, चूको मत चौहान
Image
शामली ग्राम इस्लामपुर घसौली विकास कार्यों पर प्रसन्न चिन्ह भाजपा नेता की गुंडई
Image
उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा सभी जिला अधिकारियों के व्हाट्सएप नंबर दिए जा रहे हैं जिस पर अपने सीधी शिकायत की जा सकती है देवेंद्र चौहान
एक वैध की सत्य कहानी पर आधारित जो कुदरत पर भरोसा करता है वह कुदरत उसे कभी निराश नहीं होने देता मेहरबान खान कांधला द्वारा भगवान पर भरोसा कहानी जरूर पढ़ें