क्या सच में ही अमेरिका और रूस दुनिया से इस्लामिक आतंकवाद को खत्म करना चाहता है तो यह आतंकवाद खत्म हो ही जाएगा परंतु हो सकता है दुनिया के स्वार्थी नेता दुनिया के भले के लिए कैसे सोच सकते हैं वह तो अपना व्यक्तिगत भला देखते हैं उससे परे उनकी सोच ही नहीं है परंतु चलो फिर भी क्या पता आदमी का कब स्वभाव बदल जाए दुनिया में होती हुई आतंकी घटनाओं को देखकर मन बदल जाए और यह कल्याणकारी कार्य को अंजाम देते इस्लाम बुरा नहीं है बुरी है वह कट्टरपंथी हर धर्म में कट्टरपंथी ही पूरी है इसमें खाली से सलाम के लिए नहीं दुनिया में वास्तविक धर्म के लिए ही युद्ध लड़ना चाहिए आज वास्तविक धर्म से हर कोई दूर है


Popular posts
चार मिले 64 खिले 20 रहे कर जोड प्रेमी सज्जन जब मिले खिल गऐ सात करोड़ यह दोहा एक ज्ञानवर्धक पहेली है इसे समझने के लिए पूरा पढ़ें देखें इसका मतलब क्या है
सफाई कर्मचारियों को नियमित कराने के लिए मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन
Image
संविदा व ठेके पर नगर पालिका में सफाई कर्मियों को परमानेंट कराने हेतु मुख्यमंत्री के नाम डीएम को ज्ञापन अरविंद झंझोट
Image
आदि अनार्य सभा पश्चिम उत्तर प्रदेश के रामस्वरूप बाल्मीकि संचालक नियुक्त
Image
महर्षि बाल्मीकि पर आप नेता ने की अभद्र टिप्पणी बाल्मीकि समाज में रोष अरविंद झंझोट
Image