सिसौली मुख्यालय किसान पंचायत में भारतीय जनता पार्टी के नेताओं को शादी बिहा या अन्य किसी भी प्रोग्राम में न्योता ना दिया जाए नरेश टिकैत

 मुजफ्फरनगर सिसौली भारतीय किसान यूनियन मुख्यालय पर ऐतिहासिक मासिक पंचायत को संबोधित करते हुए भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय अध्यक्ष चौधरी नरेश टिकैत


ने कहा कि कोई भी भाई किसी भी गांव में भाजपा नेताओं को शादी विवाह में तेरहवीं का निमंत्रण नहीं देगा अगर कोई व्यक्ति भाजपा नेताओं को चिट्ठी देने का दोषी पाया जाता है तो अगले ही दिन वह अपने घर पर एक सो आदमियों का खाना बनवा आएगा यह उसके लिए दंड स्वरूप होगा पंचायत में चौधरी नरेश टिकैत ने कहा कि किसान आंदोलन मान सम्मान की लड़ाई हो गई है यह हमारे किसान समाज की पगड़ी की लड़ाई है हमें अपनी जमीन बेचनी है अपनी इज्जत बचाने है इसलिए हम इस आंदोलन को और भी मजबूती के साथ लगने का काम करेंगे उन्होंने कहा कि पश्चिम बंगाल में भी बीजेपी वाले बहुत जोर शोर से जय श्रीराम के नारे लगाते हैं जबकि श्री राम के वंशज रघुवंशी गोत्र के किसानों को दिल्ली गाजीपुर बॉर्डर पर बैठे हुए लगभग 3 माह होने वाले हैं अगर उनसे मिलने का समय सरकार के पास नहीं है और न ही किसानों से बात करने का चौधरी ने कहा कि 200 से ज्यादा किसान दिल्ली बॉर्डर पर अलग-अलग जगह से शहीद हो चुके हैं लेकिन देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने एक बार भी इन शहीदों के प्रति अपनी संवेदना व्यक्त नहीं की है किसान जब तक अपनी पूरी नहीं हो नहीं होगी दिल्ली पता रहेगा चलता रहेगा चौधरी नरेश टिकैत नी कहा कि उत्तर प्रदेश में बिजली के दाम पड़ोसी राज्यों से ज्यादा है डीजल के दाम भी आसमान छू चुका है ऐसे में किसान बर्बाद नहीं होगा तो और क्या होगा बैंक के कर्ज के नीचे किसान दबा हुआ है पिछले 7 सालों से यूपी में गन्ने के रेट में भी कोई बढ़ोतरी नहीं हुई है किस प्रकार के साथ अपना बैंक का कर्जा उतार देगा और कैसे अपना गुजारा करेगा उन्होंने कहा कि हम तो अपने खाते से जो सरकार ने 10 बढ़ाई थे उन ₹10 का जितना हिसाब बनता है वह हमराज के कोष में जमा करवा देंगे आओ और किसानों से अनुरोध करके पैसा राज के कोष में जमा करवा देंगे अगर इस प्रकार से भी सरकार का घाटा पूरा होता है तो हम पैसा वापसी करने के लिए भी तैयार है आज से सोनीपत में चौधरी बलबीर सिंह राजबाला ने कहा कि 26 तारीख की घटना के बाद किसानों का मनोबल कुछ हद तक कम हो गया था 27 तारीख को उसके उपरांत तारीख में जो आंदोलन को बचा लिया और बचा लिया इसका हम इस आंदोलन को हम हरियाणा पंजाब उत्तर प्रदेश

Popular posts
चार मिले 64 खिले 20 रहे कर जोड प्रेमी सज्जन जब मिले खिल गऐ सात करोड़ यह दोहा एक ज्ञानवर्धक पहेली है इसे समझने के लिए पूरा पढ़ें देखें इसका मतलब क्या है
13 दिसंबर स्वामी विद्यानंद गिरी महाराज की पुण्यतिथि प्रवर्तन योद्धा मोहन जोशी के जन्मदिन पर विशेष महावीर संगल जी
Image
राष्ट्रीय लोक शिकायत जांच आयोग के वाइस चेयरमैन बने उपेंद्र चौधरी
Image
अकबर महान पढा पर एक सच्चाई जो छुपाई गई देखें इस लेख में पवन सिंह तरार
Image
सावधान देश को अन देने वाला किसान सम्मान देने वाला पहलवान दोनों की आंखों में आंसू गैरों पे करम अपनों पर सितम
Image