रोहतास जिला कुशवाहा भवन मैं अखिल भारतीय किसान संघर्ष समिति की मीटिंग अशोक बैठा की अध्यक्षता में संपन्न हुई राम इकबाल राम

 आज दिनांक 03-03-2021 दिन  बुधवार को रोहतास जिला (सासाराम) कुशवाहा सभा भवन में आॅल इंडिया रेलवे शु-शाईन वर्कस यूनियन और अखिल भारतीय किसान संघर्ष समन्वय समिति के घटक संगठनों की बैठक आयोजित


की गई। बैठक के प्रमुख अतिथि आॅल इंडिया रेलवे शु-शाईन वर्कस यूनियन के राष्ट्रीय अध्यक्ष, संस्थापक एव पूर्व लोकसभा प्रत्याशी रामएकबाल राम थे, बैठक इसकी अध्यक्षता अशोक बैठा एवं संचालन सत्तार अंसारी ने किया। बैठक में किसान महापंचायत आयोजित करने, किसान आंदोलन को जन आंदोलन बनाने के लिए गांव-गांव में जागरूकता लाने और संबंधित कार्ययोजना बनाने, आंदोलनकारियों के खिलाफ मुकदमे वापस कराने के विषय में चर्चा की गई। 18-02-2021 को राष्ट्रीय स्तर पर किसान संगठनों द्वारा रेल रोको आंदोलन शांति पूर्ण रूप से आयोजित किया गया था। परन्तु रेल प्रशासन द्वारा आंदोलनकारियों के खिलाफ मुकदमे दर्ज किए गए हैं और सम्मन भेजे जा रहे हैं। इस संबंध में जिलाधिकारी से मिलकर ज्ञापन देने का निर्णय किया गया और रामएकबाल राम जी ने कहा की केन्द्र गृह मंत्री और समाजिक अधिकारिता मंत्री को पत्र भेजा जाएगा। आखिर गरीबों किसानों के हक अधिकारो के लड़ाई लडने वालो पर प्रशासन झूठा मुकदमे दर्ज कर क्यों परेशान कर रही है। 

बैठक में अशोक कुमार, रामएकबाल राम(पूर्व लोकसभा प्रत्याशी) , शोभनाथ सिंह, ग़ुलाम कुन्दनम्, मुनेश्वर गुप्ता, राजेश कुमार साह, राकेश कुमार, राहुल कुमार, राज मंगल पाण्डेय आदि शामिल थे।

Popular posts
चार मिले 64 खिले 20 रहे कर जोड प्रेमी सज्जन जब मिले खिल गऐ सात करोड़ यह दोहा एक ज्ञानवर्धक पहेली है इसे समझने के लिए पूरा पढ़ें देखें इसका मतलब क्या है
मत चूको चौहान*पृथ्वीराज चौहान की अंतिम क्षणों में जो गौरव गाथा लिखी थी उसे बता रहे हैं एक लेख के द्वारा मोहम्मद गौरी को कैसे मारा था बसंत पंचमी वाले दिन पढ़े जरूर वीर शिरोमणि पृथ्वीराज चौहान वसन्त पंचमी का शौर्य *चार बांस, चौबीस गज, अंगुल अष्ठ प्रमाण!* *ता उपर सुल्तान है, चूको मत चौहान
Image
एक वैध की सत्य कहानी पर आधारित जो कुदरत पर भरोसा करता है वह कुदरत उसे कभी निराश नहीं होने देता मेहरबान खान कांधला द्वारा भगवान पर भरोसा कहानी जरूर पढ़ें
उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा सभी जिला अधिकारियों के व्हाट्सएप नंबर दिए जा रहे हैं जिस पर अपने सीधी शिकायत की जा सकती है देवेंद्र चौहान
क्योंकि पूरी दुनिया में कारपेट बिछाने से अच्छा है कि हम अपने पैरों में ही जूता पहन लें..