प्रयागराज मस्जिद में अजान के कारण होती है नींद हराम कुलपति ने की एस एस पी आई जी से शिकायत

 कुलपति ने एसएसपी आईजी और कमिश्नर से की शिकायत, अज़ान के कारण होती है नींद खराब


प्रयागराज। मस्जिद में होने वाली अज़ान के कारण नींद खराब होने कीे कारण कुलपति ने एसएसपी, आईजी और कमिश्नर से शिकायत की है। इस मामले की जांच भी शुरू हो गई है। वहीं मौलाना का कहना है कि एक या दो मिनट की अजान से किसी को दिक्कत हो, यह बात समझ से परे है। इलाहाबाद केन्द्रीय विश्वविद्यालय की कुलपति संगीता श्रीवास्तव ने आला अधिकारियों को लिखे पत्र में कहा है कि उनके आवास के स्थित मस्जिद में होने वाली अज़ान के कारण उनकी नींद खराब हो जाती है। इसलिए इसे बंद कराया जाये। उन्होंने कहा कि सुबह करीब साढ़े पांच बजे अजान की तेज आवाज आती है, इससे उनकी नींद खराब हो जाती है। उन्होंने यह भी कहा है कि वह किसी धर्म, जाति अथवा सम्प्रदाय के खिलाफ नहीं है। उनका कहना है कि उन्हें सिर्फ तेज आवाज से दिक्कत होती है और उनकी नींद खराब हो जाती है। उन्होंने कहा कि अज़ान यदि बिना लाउडस्पीकर के हो, तो किसी की भी नींद में खलल नहीं पड़ेगी। उन्होंने इस मामले में हाईकोर्ट में दाखिल जनहित याचिका के आदेश का हवाला देते हुए शीघ्र से शीघ्र इस मामले में कार्रवाई की गुहार लगाई है। जिलाधिकारी ने इस मामले की जांच के आदेश दिये गये हैं।

इस मामले में प्रयागराज रेंज के आईजी ने कहा कि जांच के बाद कार्रवाई की जायेगी। उन्होंने कहा कि सुप्रीम कोर्ट के भी आदेश हैं कि रात्रि 10 बजे से 6 बजे तक प्रचार प्रचार नहीं किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि यदि ऐसा करना है, तो इसके लिए स्पेसिफिक अनुमति होनी चाहिए, अगर बिना अनुमति के ऐसा किया जाता है, तो यह अवैध है।

गौरतलब है कि इलाहाबाद हाईकोर्ट ने कहा था कि लाउडस्पीकर से अज़ान दूसरे लोगों के अधिकारों में हस्तक्षेप करना है। कोर्ट ने कहा- जिन मस्जिदों के पास लाउडस्पीकर की अनुमति है, वहीं इसका इस्तेमाल करें। बिना प्रशासन की अनुमति के लाउडस्पीकर से अजान न दें। कुलपति के शिकायती पत्र भेजने पर यह मामला तूल पकड़ गया है। इस मामले में मौलाना सूफियान ने इसे समझ से परे करार दिया है। उन्होंने कहा कि या दो मिनट की बात को लेकर आपत्ति करने की बात समझ से एकदम परे है।

Popular posts
चार मिले 64 खिले 20 रहे कर जोड प्रेमी सज्जन जब मिले खिल गऐ सात करोड़ यह दोहा एक ज्ञानवर्धक पहेली है इसे समझने के लिए पूरा पढ़ें देखें इसका मतलब क्या है
मत चूको चौहान*पृथ्वीराज चौहान की अंतिम क्षणों में जो गौरव गाथा लिखी थी उसे बता रहे हैं एक लेख के द्वारा मोहम्मद गौरी को कैसे मारा था बसंत पंचमी वाले दिन पढ़े जरूर वीर शिरोमणि पृथ्वीराज चौहान वसन्त पंचमी का शौर्य *चार बांस, चौबीस गज, अंगुल अष्ठ प्रमाण!* *ता उपर सुल्तान है, चूको मत चौहान
Image
एक वैध की सत्य कहानी पर आधारित जो कुदरत पर भरोसा करता है वह कुदरत उसे कभी निराश नहीं होने देता मेहरबान खान कांधला द्वारा भगवान पर भरोसा कहानी जरूर पढ़ें
उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा सभी जिला अधिकारियों के व्हाट्सएप नंबर दिए जा रहे हैं जिस पर अपने सीधी शिकायत की जा सकती है देवेंद्र चौहान
जिंदगी का सफर-ये कैसा सफर कहानी क्या शिक्षा दे रही है वह बता रही है यह संसार ही समुंद्र है दंपत्ति का घर ही उसमें जलयान है यानी समुद्री जहाज है उसमें रहने वाले पति पत्नी मुसाफिर है और बच्चों को सही से इस भवसागर से पार तार देना कर्म नाम से जाना जाता है इसमें सफर कर रहे पति पत्नी पत्नी मोह के कारण डूब जाती है और पति ज्ञान रूपी नौका पर सवार होकर समुद्र से बाहर निकल आता है यह इस कहानी का सारांश या भावार्थ होना चाहिए आगे बता रहे हे सुंदर कहानी बता रहे है मेहरबान खान अपनी जबानी
Image