यूपी बिजनौर पुलिस उत्पीड़न से तंग पत्रकार दानिश खान ने राष्ट्रपति से इच्छा मृत्यु की मांग मेहरबान खान

 पुलिस उत्पीड़न से क्षुब्ध पीड़ित पत्रकार ने राष्ट्रपति से की इच्छा मृत्यु की मांग



स्योहारा (बिजनौर)

      पुलिस उत्पीड़न और अपने ऊपर पुलिस द्वारा दर्ज मुकदमें से तंग आकर पीड़ित पत्रकार दानिश खान ने महामहीम राष्ट्रपति से इच्छामृत्यु की मांग की है। राष्ट्रपति को भेेजे गये पत्र में पत्रकार दानिश खान ने कहा है कि  दिनांक 04/06/2021 को दोपहर के समय स्योहारा थानाक्षेत्र के ग्राम फैजुल्लापुर में दो पक्षों में एक झगड़े के दौरान लाठी-डंडे चल रहे थे तो उसने पत्रकार होने के नाते कवरेज की थी। लड़ाई का यह वीडियो सोशल मीडिया पर भी वायरल हुआ था। पत्रकार ने आरोप लगाया है कि स्योहारा थानाध्यक्ष ने दुर्भावना से ग्रसित होकर पत्रकार को झगड़े में सम्मिलित दिखाते हुए आईपीसी की 323,324,504 धाराओं में झूठा मुकदमा दर्ज कर दिया जबकि उसका इस झगड़े से किसी भी तरीके का कोई संबंध नहीं था। दानिश खान का कहना है कि वायरल हुई झगड़े की वीडियो में भी वह अलग खड़ा हुआ साफ देखा जा सकता है और उसने थानाध्यक्ष को भी उपलब्ध कराकर अपनी बेगुनाही का प्रमाण दिया था परन्तु थानाध्यक्ष ने दुर्भावना से ग्रसित होकर बेकसूर होने के बावजूद उसके ऊपर झूठा मुकदमा दर्ज किया है। पीड़ित पत्रकार देहरादून से प्रकाशित एक हिंदी दैनिक समाचार पत्र का संवाददाता है। दानिश खान का कहना है कि पुलिस के इस अनैतिक कृत्य से उसका न सिर्फ मानसिक उत्पीडन हुआ है बल्कि प्रार्थी के मान सम्मान को भी ठेस पहुंची है। पत्रकार ने राष्ट्रपति से मांग की है कि उसके विरुद्ध दर्ज किए गए फर्जी मुकदमे को न सिर्फ समाप्त कराया जाए बल्कि दोषी पुलिसकर्मियों के विरुद्ध भी कानूनी कार्रवाई की जाए। ऐसा न होने की दशा में उसको इच्छा मृत्यु प्रदान की जाये।




Popular posts
चार मिले 64 खिले 20 रहे कर जोड प्रेमी सज्जन जब मिले खिल गऐ सात करोड़ यह दोहा एक ज्ञानवर्धक पहेली है इसे समझने के लिए पूरा पढ़ें देखें इसका मतलब क्या है
मत चूको चौहान*पृथ्वीराज चौहान की अंतिम क्षणों में जो गौरव गाथा लिखी थी उसे बता रहे हैं एक लेख के द्वारा मोहम्मद गौरी को कैसे मारा था बसंत पंचमी वाले दिन पढ़े जरूर वीर शिरोमणि पृथ्वीराज चौहान वसन्त पंचमी का शौर्य *चार बांस, चौबीस गज, अंगुल अष्ठ प्रमाण!* *ता उपर सुल्तान है, चूको मत चौहान
Image
उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा सभी जिला अधिकारियों के व्हाट्सएप नंबर दिए जा रहे हैं जिस पर अपने सीधी शिकायत की जा सकती है देवेंद्र चौहान
एक वैध की सत्य कहानी पर आधारित जो कुदरत पर भरोसा करता है वह कुदरत उसे कभी निराश नहीं होने देता मेहरबान खान कांधला द्वारा भगवान पर भरोसा कहानी जरूर पढ़ें
क्योंकि पूरी दुनिया में कारपेट बिछाने से अच्छा है कि हम अपने पैरों में ही जूता पहन लें..