तीन कृषि कानून वापसी की घोषणा कांग्रेसियों ने बांटी मिठाई रिपोर्टर एके शर्मा बडोली

 झिंझाना 19 नवम्बर


भाजपा की केंद्र सरकार द्वारा तीनो कृषि कानून को वापस लिए जाने के बाद कांग्रेस कार्यकर्ताओ ने एक दूसरे को मिठाई खिलाकर पार्टी व किसानों की जीत बताया । कैराना विधान सभा के भावी प्रत्यासी अश्वनी शर्मा सिंगरा ने फैसले का स्वागत किया है । वही इसे चुनावी हथकंडा भी बताया है ।

         बिडौली स्थित मैन मार्केट में काँग्रेस नेता अशवनी शर्मा (सींगरा) के नेतृत्व में काँग्रेसीयों ने कृषि  कानूनों को वापिस लिए जाने की घोषणा पर मिष्ठान वितरण कर खुशी जाहिर की गई। लगभग एक वर्ष पूर्व भाजपा सरकार द्वारा लाये गये तीनों कृषि कानूनों के विरोध में पूरे देश का किसान आंदोलनरत है। काँग्रेस पार्टी सहित सम्पूर्ण विपक्ष द्वारा किसानों के साथ आंदोलन में हिस्सा लिया गया। सरकार द्वारा कृषि कानूनों को वापिस लिए जाने की घोषणा को काँग्रेस के यूवा प्रदेश महासचिव अशवनी शर्मा (सींगरा) ने  कि क किसानों की बडी जीत बताया। अशवनी शर्मा ने कहा कि कृषि कानूनों को वापिस लेने का फैसला स्वागत योग्य है। लेकिन यह फैसला अगर समय से लिया गया होता तो आज देश के हजारों किसानों की सहादत ना हुई होती। कृषि कानूनों की वापसी देश के किसानों की सहादत पर सच्ची श्रद्धांजलि होगी। किसान लगभग एक वर्ष से बेघर होकर अपने हक की लडाई लड रहा है। काँग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव हमारी नेता आदरणीय प्रियंका गांधी जी के द्वारा किसानों के हकों के लिए किये गए प्रयासों से आज  बीजेपी की तानाशाही सरकार को झुकना पड़ा है। हमारा शीर्ष नेतृत्व हमेशा से किसानों के दुख दर्द में किसानों के साथ रहा है। हमे गर्व है कि हम एक एसी नेता के नेतृत्व में काम करने का सोभाग्य प्राप्त हुआ जिन्हें किसान व मजदूर सहित प्रत्येक दीन-दुखी की पीडा का अहसास है। कोरोना काल से लेकर लखीमपुर नरसंहार पर आदरणीय प्रियंका गांधी जी ने संघर्ष करके मृतकों किसानों के परिवारों को न्याय दिलाने का काम किया। काँग्रेस पार्टी ने हमेशा किसान मजदूर के हित में फैसले लेने का काम किया है। हमारी कथनी और करनी हमेशा एक रहती है। पार्टी द्वारा की गई प्रतिज्ञाएं सरकार बनने पर पूरी की जायेंगी। इस समय कृषि कानूनों की वापसी की घोषणा भाजपा द्वारा आगामी विधानसभा चुनावों मे फायदा लेने का जुमला तो नही है। बीजेपी ने सत्ता में आने से पूर्व प्रतिवर्ष दो करोड़ रोजगार एवं कालाधन वापिस लाने का वायदा किया था जो कि जुमला साबित हुआ है। चुनाव में लाभ लेने के लिए पेंतीस रुपये बढाकर मात्र पांच रुपये पेट्रोल व डीजल पर कम किये गए हैं। देश की जनता ने परिवर्तन का मन बना लिया है। देश को काँग्रेस के प्रतिनिधित्व की आवश्यकता है।

कार्यक्रम में यूवा प्रदेश महासचिव अशवनी शर्मा (सींगरा), ब्लॉक अध्यक्ष सुरेश सैनी,शुभम शर्मा,यूवा जिलाउपाध्यक्ष अशवनी कौशिक हथछोया, डॉक्टर बब्लू शर्मा, रमेशचंद्र शर्मा, अनुराग शर्मा, सूरज शर्मा, विक्रम रावल, रुपक मछरोली, राजेंद्र गोल्डी, सुमित पांचाल, नरेश कौशिक, सुमित मंगलोरा, अजीत शर्मा आदि मौजूद रहे।

Ak sharma bidoli

Popular posts
चार मिले 64 खिले 20 रहे कर जोड प्रेमी सज्जन जब मिले खिल गऐ सात करोड़ यह दोहा एक ज्ञानवर्धक पहेली है इसे समझने के लिए पूरा पढ़ें देखें इसका मतलब क्या है
सफाई कर्मचारियों को नियमित कराने के लिए मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन
Image
संविदा व ठेके पर नगर पालिका में सफाई कर्मियों को परमानेंट कराने हेतु मुख्यमंत्री के नाम डीएम को ज्ञापन अरविंद झंझोट
Image
आदि अनार्य सभा पश्चिम उत्तर प्रदेश के रामस्वरूप बाल्मीकि संचालक नियुक्त
Image
महर्षि बाल्मीकि पर आप नेता ने की अभद्र टिप्पणी बाल्मीकि समाज में रोष अरविंद झंझोट
Image