बागपत दंगल हम दंगा अखिलेश यादव केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर रिपोर्ट देवेंद्र चौहान

 बागपत में हुआ ऐतिहासिक दंगल का आयोजन, कई राज्यों से नामी पहलवान हुए शामिल


*-अखिलेश दंगा कराते थे हम दंगल कराते हैं- अनुराग ठाकुर*

बागपत, 27 नवंबर। बागपत के बड़ौत में ऐतिहासिक दंगल का आयोजन किया गया, जिसमें नामी गिरामी पहलवानों ने अपना दमखम दिखया। आख़िरी कुश्ती 11 लाख ईनाम की पृथ्वी राज पाटिल महाराष्ट्र कैसरी और साहिल हरियाणा कैसरी के बीच करीब आधे घंटे तक चली जो बराबरी पर रही। दोनों को आधा-आधा ईनाम दिया गया।

1 लाख ईनाम की कुश्ती अतुल रोहतक और सोमबीर सोनीपत के बीच हुई । ये भी बराबरी पर रही।

साथ ही दो कुश्ती 51-51 हजार की हुई जो कि पहलवान सचिन खरखोदा और आर्यन सोनीपत के साथ हुई जो बराबरी पर छूटी। रामवीर दिल्ली निवासी एवं करण सिंह रोहतक निवासी के बीच भी कुश्ती हुई जो की बराबरी पर छूटी।

दंगल में महिला पहलवानों की कुश्ती भी आकर्षक का केन्द्र रही। दंगल आयोजक हिन्द कैशरी सुभाष पहलवान ने कहा कि दंगल का आयोजन  पहले से किया जा रहा है। इस दंगल में सम्पूर्ण देश से नामी पहलवानो ने भाग लिया है। छोटे और बड़े हर पहलवान का सम्मान दंगल कमेटी के द्वारा किया गया।

 उन्होंने कहा कि पिछली बार कोरोना के कारण दंगल नहीं हो पाया था। दंगल में आयें क्षेत्र के लोगों तथा सभी पहलवानों का उन्होंने आभार जताया। 

दंगल में आये सासंद डा सत्यपाल सिंह ने कहा कि भारतीय संस्कृति में दंगल का अलग ही महत्व है। जिसका आयोजन आदिकाल से ही होता आ रहा है। दंगलो के आयोजनों से युवाओं में शारीरिक मज़बूती के साथ मानसिक रूप से भी मज़बूती आती है। उन्होंने कहा कि दंगलों में आए हुए पहलवानों में से कोई भी पहलवान अंतरराष्ट्रीय स्तर पर देश का नाम रोशन कर सकता है। दंगल में आये मुख्य अतिथि  भारतीय जनता पार्टी उत्तर प्रदेश के सह चुनाव प्रभारी व केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण और खेल मंत्री अनुराग ठाकुर ने कहा कि विपक्षियों को दंगे की जगह दंगल का आयोजन रास नहीं आ रहा है। उन्हें खेल व खिलाड़ियों को प्रोत्साहन अच्छा नहीं लग रहा है। उन्होंने कहा कि पूर्व की सपा सरकार ने खेलों और खिलाड़ियों को प्रोत्साहित करने की दशा में कोई काम नहीं किया। अब जब भारतीय जनता पार्टी के सांसद खेल स्पर्धा करा रहे हैं तो उन्हें बुरा लग रहा है। उन्होंने समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव से सवाल किया कि अगर सांसद अपने क्षेत्र के खिलाड़ियों को आगे बढ़ा रहे हैं तो इसमें बुराई क्या है?

श्री ठाकुर ने तंज कसते हुए कहा कि अखिलेश जी आप प्रदेश में दंगा कराते थे, हम दंगल कराते हैं। हर कोई अब दंगा नहीं, बल्कि दंगल चाहता है। उन्होंने कहा कि अखिलेश यादव इन सांसद खेल स्पर्धाओं पर सवाल उठाते हैं, लेकिन उनको सोचना चाहिए कि ऐसी ही प्रतियोगिताओं से प्रतिभाएं निकलती हैं। उन्हें प्रोत्साहन मिलता है तो वे पदक जीतकर देश और प्रदेश का मान बढ़ाती है।  

केन्द्रीय मंत्री ने कहा कि अगर आप पदक विजेताओं को देखेंगे तो पाएंगे कि वे बहुत संपन्न घरों से नहीं हैं। ग्रामीण क्षेत्रों के युवा जिनके सीने में आगे बढने की ललक है और कुछ कर दिखाने व हासिल करने की जज्बा है, ऐसी ही लोग भारत के लिए पदक जीत रहे हैं। उन्होंने कहा कि हम ग्रामीण क्षेत्रों में प्रतिभा खोजने आएंगे। उन्हें चुना जाएगा, परखा जाएगा, प्रोत्साहित किया जाएगा और हीरे में बदलने में सक्षम बनाया जाएगा, ताकि वे भारत का नाम रोशन कर सकें। अनुराग ठाकुर ने कहा कि केंद्र और प्रदेश की भाजपा सरकार ने खेल और खिलाड़ियों को प्रोत्साहित करने के लिए अभियान चलाकर काम किया है। ओलंपिक और अन्य अंतर्राष्ट्रीय स्पर्धाओं में भारत की झोली में आये पदक इसको प्रमाणित करते हैं। उन्होंने कहा कि कहा कि इन खेल स्पर्धाओं में जीतने वालों को साई (स्पोर्ट्स अथॉरिटी आफ इंडिया) के कोच से दो सप्ताह की ट्रेनिंग सरकार अपने खर्चे पर कराएगी और उनको आगे बढ़ाया जाएगा। केन्द्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने की जनपद में अत्याधुनिक इंडोर स्टेडियम बनाने की भी घोषणा की। पहलवान बबीता फौगाट, योगेश्वर दत्त भी दंगल का आकर्षण का केन्द्र रहे।

इस अवसर पर भाजपा जिला प्रभारी हिमांशु मित्तल, जिला अध्यक्ष सूरजपाल सिंह, क्षेत्रीय उपाध्यक्ष महेश अग्रवाल,  विधानसभा प्रभारी अरविन्द संगल, पूर्व विधायक लोकेश दिक्षित, साहब सिंह, जसवीर सौलकी, विक्रम राणा, डा नीटू पहलवान, रोहित तोमर, कुलदीप भारद्वाज, अनीता खौखर, सरिता चौधरी, डा नीरज कौशिक, राजगुरु तोमर, राजीव तोमर, प्रभात तोमर आदि मौजूद रहे‌।

------------

विश्व बंधु शास्त्री