गुरु गोविंद सिंह साहिब जादो बलिदान हो पाठ्यक्रम में शामिल शिक्षा संस्कृति उत्थान न्यास की प्रधानमंत्री को चिट्ठी विजय पाल सिंह

 *गुरू गोबिंद सिंह के साहिबज़ादों के बलिदान की गाथा पाठ्यक्रम में शामिल की जाये*

शिक्षा संस्कृति उत्थान न्यास ने प्रधानमंत्री को लिखा पत्र


प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी द्वारा गुरु गोबिंद सिंह के पुत्र जोरावर सिंह और फतेह सिंह के बलिदान दिवस 26 दिसम्बर को "वीर बाल दिवस" के रूप में मनाए जाने की घोषणा प्रकाश पर्व के शुभ अवसर पर की गयी है। प्रधानमंत्री जी की इस पहल का स्वागत करते हुए शिक्षा संस्कृति उत्थान न्यास द्वारा साहिबजादों के बलिदान को पाठ्यक्रम में सम्मिलित करने की मांग की गयी है।


यह जानकारी देते हुए शिक्षा संस्कृति उत्थान न्यास के प्रचार प्रमुख अथर्व शर्मा ने बताया कि गुरु गोबिंद सिंह जी के साहिबजादों पर हुए अत्याचारों को सुन कर आज भी हमारी रूह कांप जाती है। बाल वीर बांकुरों ने धर्म की रक्षा व महान सिद्धांतों के लिये अपने प्राणों को न्योछावर किया था। न्यास के राष्ट्रीय सचिव श्री अतुल कोठारी ने प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी द्वारा वीर बाल दिवस की घोषणा का स्वागत करते हुए उनसे अनुरोध किया है कि बाल वीर बांकुरों की प्रेरणास्पद गाथा को हमारे पाठ्यक्रम में शामिल किया जाये जिससे साहिबजादों की शौर्य, त्याग व समर्पण की कहानी से आने वाली पीढ़ियाँ प्रेरणा ले सके तथा भारत के गौरवशाली इतिहास को आत्मसात कर राष्ट्रसेवा में अपना योगदान दे सकें

अथर्व शर्मा  राष्ट्रीय प्रचार प्रमुख 

शिक्षा संस्कृति उत्थान न्यास 


रिपोटर चंद्रकांत सी पूजारी

Popular posts
चार मिले 64 खिले 20 रहे कर जोड प्रेमी सज्जन जब मिले खिल गऐ सात करोड़ यह दोहा एक ज्ञानवर्धक पहेली है इसे समझने के लिए पूरा पढ़ें देखें इसका मतलब क्या है
भ्रष्टाचार के विरुद्ध दुनिया का सबसे लंबा धरना मास्टर विजय सिंह महान युवा अब बूढ़ा हो चला थक गई आंखें इंतजार करते क्या कभी यह इंतजार खत्म होगा कोई ईमानदार शासक आएगा इस महान चेतन पर दृष्टिपात करेगा
Image
मत चूको चौहान*पृथ्वीराज चौहान की अंतिम क्षणों में जो गौरव गाथा लिखी थी उसे बता रहे हैं एक लेख के द्वारा मोहम्मद गौरी को कैसे मारा था बसंत पंचमी वाले दिन पढ़े जरूर वीर शिरोमणि पृथ्वीराज चौहान वसन्त पंचमी का शौर्य *चार बांस, चौबीस गज, अंगुल अष्ठ प्रमाण!* *ता उपर सुल्तान है, चूको मत चौहान
Image
कैराना कलस्यन खाप भवन भाजपा गांव चलो अभियान की समीक्षा करते स्थानीय नेता एवं कार्यकर्ता
Image
कर्मशील भारतीके नाटक क्रांति सूर्य ज्योतिराव फुले पर नंदलेश ने की परिचर्चा गोष्ठी
Image