थोड़ी देर में चुनाव आयोग जनता के स्वास्थ्य हित में निर्णय देता है या राजनीतिक स्वार्थ में टलेंगे चुनाव या आचार संहिता

 पूरी दुनिया के साथ ही भारत में भी कोरोना थर्ड वेव विकराल रूप ले चुकी है


अब देखना यह है चुनाव आयोग जनता के हित में चुनाव को डालते हैं या राजनीतिक पार्टियों के स्वार्थ सिद्धि के लिए जनता के गले को एक बार फिर दबा दिया जाएगा और चुनाव की घोषणा कर दी जाएगी यह सब चुनाव आयोग के विवेक पर निर्भर है वह जनता को बचाए या राजनीति के हाथों का खिलौना साबित हो साढ़े 3 बजे चुनाव आयोग की प्रेस कॉन्फ्रेंस, इसके बाद आचार संहिता लगेगी।

Popular posts
संविदा व ठेके पर नगर पालिका में सफाई कर्मियों को परमानेंट कराने हेतु मुख्यमंत्री के नाम डीएम को ज्ञापन अरविंद झंझोट
Image
चार मिले 64 खिले 20 रहे कर जोड प्रेमी सज्जन जब मिले खिल गऐ सात करोड़ यह दोहा एक ज्ञानवर्धक पहेली है इसे समझने के लिए पूरा पढ़ें देखें इसका मतलब क्या है
महर्षि बाल्मीकि पर आप नेता ने की अभद्र टिप्पणी बाल्मीकि समाज में रोष अरविंद झंझोट
Image
सफाई कर्मचारियों को नियमित कराने के लिए मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन
Image
बागपत पुलिस पीड़ित पिता का थप्पड़ से स्वागत प्रभारी लाइन हाजिर
Image