गाजियाबाद फर्जी पत्रकार निकली लुटेरी दुल्हन

 लुटेरी दुल्हन की बहन निकली गाजियाबाद की फर्जी पत्रकार, मिंटू गुर्जर समेत कई को लगाया लाखों का चूना, ऐसे हुआ खुलासा 




गाज़ियाबाद ,आपने सुना होगा कि लुटेरी दुल्हन शादी करने के बाद ससुराल का सारा माल लेकर फरार हो जाती है, लेकिन आज हम आपको ऐसी ही एक दुल्हन की कहानी सुनाएंगे। जो शादी करने के बाद एकदम नहीं बल्कि धीरे-धीरे माल को लुटती है। यह दुल्हन काफी समय से गाजियाबाद में रह रही थी और अपने आपको पत्रकार बता दी थी। कुछ दिनों पहले इस युवती ने सीआरपीएफ के जवान के साथ लाखों रुपए की ठगी की थी। जिसके बाद पीड़ित ने गाजियाबाद पुलिस को लिखित शिकायत दी और पुलिस ने शिकायत के आधार पर आरोपी युवती को गिरफ्तार कर पूरे मामले का खुलासा किया है।


*फेसबुक से हुई थी दोस्ती*


गाजियाबाद के पुलिस अधीक्षक नगर द्वितीय ज्ञानेंद्र सिंह ने बताया कि सीआरपीएफ के जवान इंद्रवीर सिंह की फेसबुक के माध्यम से पूजा नामक एक युवती से दोस्ती हुई दोनों के बीच चैटिंग शुरू हुई। पूजा ने खुद को साहिबाबाद का लोकल पत्रकार बताया था। सीआरपीएफ जवान को अपने बच्चों का केंद्रीय विद्यालय साहिबाबाद में एडमिशन दिलवाना था। उन्होंने पूजा से रेंट एग्रीमेंट और घरेलू गैस कनेक्शन बनवाने की बात कही थी। कुछ समय बाद सीआरपीएफ जवान गाजियाबाद रेलवे स्टेशन आए और यहां पर उनकी एक युवती से मुलाकात हुई। युवती ने सीआरपीएफ जवान से अपना नाम पूजा बताया था। पूजा के साथ एक अन्य युवती मोना भी थी।


*विश्वास जताने के लिए बैंक में जमा करवाए 2,500 रुपए*


सीआरपीएफ जवान सुरेंद्र कुमार ने पुलिस को बताया कि पूजा उसको लाजपत नगर स्थित अपने घर ले गई। वहां पर रेंट एग्रीमेंट के लिए आधार कार्ड, बैंक पासबुक की कॉपी और दो पासपोर्ट साइज के फोटो लिए थे। इस दौरान पूजा ने सुरेंद्र कुमार के बैंक खाते में 2,500 रुपए जमा भी कराए थे। सुरेंद्र कुमार रात को पूजा के घर में भी रुक  अगली सुबह अपने घर बुलंदशहर चले गए। 


*नशीला पदार्थ खिलाकर रचाई शादी*


सुरेंद्र कुमार ने बताया कि कुछ समय बाद वह फिर से छुट्टी पर पूजा के पास आए थे। पूजा ने उनको रेंट एग्रीमेंट और गैस कनेक्शन की कॉपी देने के लिए अपने घर बुलाया था। वहां पर पूजा की मां नीलम उर्फ नीलम शर्मा, भाई शिवम और सचिन मिले। आरोप है कि सुरेंद्र कुमार को चाय-नाश्ता में कुछ नशीला पदार्थ मिलाकर खिला दिया था और दो कागजों पर हस्ताक्षर कराए थे। जिसके बाद आर्य समाज मंदिर दिल्ली में पूजा ने सुरेंद्र कुमार के साथ पहनाकर फर्जी शादी कराई और फोटो खींचे। स्थिति सामान्य होने पर वह घर चले गए। 


*फिर हुई असली खेल शुरू*


पीड़ित ने पुलिस को शिकायत देते हुए बताया कि उसके बाद पूजा उन्हें ब्लैकमेल करने लगी। उनके गृह जनपद स्थित घर पहुंची और दो लाख रुपये मांगे। वीडियो और फोटो वायरल करने की धमकी दी। उन्होंने डर कर 80 हजार रुपए दिए थे। उसने उनका मोबाइल भी ले लिया। उनके मोबाइल से कंपनी कमांडर और दोस्तों को फर्जी शादी के फोटो भेज दिए। सुरेंद्र कुमार ने अपने परिजनों को इसकी जानकारी दी, जिसके बाद परिजनों मोहन नगर मंदिर के पार्क में पूजा से मिले और उसने 2 लाख रुपए लेकर समझौता लिखकर दिया था। उसके बाद भी पूजा ने एक वकील के जरिए उनकी यूनिट और घर पर नोटिस भेजा और फर्जी मुकदमे में जेल भेजवाने की धमकी दी। जिसके बाद पीड़ित ने इस मामले में पुलिस को शिकायत दी। पुलिस ने शिकायत के आधार पर जांच शुरू की तो इस मामले का खुलासा हुआ।


*पूजा निकली ज्योति तोमर, अवनी राजपूत और आरती*


पुलिस को जांच पड़ताल में पता चला कि पूजा नाम बदलकर लोगों को फंसाकर रुपए ऐंठती है। पूजा अभी तक कई लोगों को झूठे मुकदमे में फंसा कर पैसे वसूल चुकी है। पूजा ने लोनी के मिंटू गुर्जर के खिलाफ भी इसी तरह मुकदमा कराया है। जांच में पता चला है कि पूजा का असली नाम ज्योति तोमर है। इसके अलावा अवनी राजपूत और आरती आदि नामों से भी पूजा ने कई लोगों को अपने जाल में फंसाया है। 


*मां और 2 भाइयों को तलाश जारी*


पुलिस ने बताया कि इस मामले में ज्योति तोमर, उसकी मां नीलम सिंह उर्फ नीलम शर्मा भाई सचिन और शुभम के खिलाफ मुकदमा दर्ज हुआ। पुलिस ने पूजा को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। पुलिस शातिर युवती की मां और उसके दो भाईयों की तलाश कर रही है। जांच में पता चला है कि पूजा फर्जी पत्रकार है, जो अभी तक की लोगों को शिकार बना चुकी है।

Popular posts
संविदा व ठेके पर नगर पालिका में सफाई कर्मियों को परमानेंट कराने हेतु मुख्यमंत्री के नाम डीएम को ज्ञापन अरविंद झंझोट
Image
चार मिले 64 खिले 20 रहे कर जोड प्रेमी सज्जन जब मिले खिल गऐ सात करोड़ यह दोहा एक ज्ञानवर्धक पहेली है इसे समझने के लिए पूरा पढ़ें देखें इसका मतलब क्या है
महर्षि बाल्मीकि पर आप नेता ने की अभद्र टिप्पणी बाल्मीकि समाज में रोष अरविंद झंझोट
Image
सफाई कर्मचारियों को नियमित कराने के लिए मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन
Image
बागपत पुलिस पीड़ित पिता का थप्पड़ से स्वागत प्रभारी लाइन हाजिर
Image