शामली ओघड पीर श्री श्री 1008 पुण्यतिथि पर भक्तों द्वारा हमन कीर्तन भंडारे का आयोजन

 शामली ओघड़ पीर श्री श्री 1008 श्री सिद्ध बाबा न्यादरनाथ जी महाराज दसवे द्वारी की 120 वीं पुण्यतिथि पर गांव वालों द्वारा बड़ी धूमधाम के साथ भजन कीर्तन व हवन आदि के साथ मनाई


गई इसके उपरांत विशाल भंडारे का आयोजन किया गया जिसमें हिंदू युवा वाहिनी जिला शामली के पदाधिकारियों ने  कार्यक्रमों में सम्मिलित होकर  सिद्ध संतों का आशीर्वाद प्राप्त किया

जिसमे सर्वप्रथम गांव तपोभूमि खेड़ी विरागी समाधि स्थल में शाम के समय 4 मई को  बड़ी श्रद्धा के साथ भजन कीर्तन व सत्संग का आयोजन किया गया जिसमें पीर शेरनाथ जी भी सम्मिलित हुए उक्त भजनों की गूंज से सारा क्षेत्र भक्तिमय हो गया 5 मई को सुबह 9:00 बजे आचार्य पंडित राधेश्याम  शर्मा ने पंडित चित्रकूट अचार्य सहयोगी पंडित शिवदत्त शर्मा आदि ने मुख्य अजमान चौधरी जुगमिंदर  सिंह मलिक हरियाणा प्रदेश संरक्षक हिंदू युवा वाहिनी डॉक्टर वीरपाल सिंह ,राकेश धीमान, मास्टर वीरसेन से  वैदिक मंत्रोच्चारण के साथ  यज्ञ हवन संपन्न कराया हिंदू युवा वाहिनी जिला शामली के बिट्टू कुमार जिला प्रभारी के नेतृत्व में अरविंद कौशिक जिला वरिष्ठ उपाध्यक्ष ,प्रदीप निरवाल ,मनोज रोहिल्ला नगर अध्यक्ष, मांगेराम नामदेव,   पंडित महेश कुमार शर्मा ,नवीन जैन ,निशांत शर्मा आदि उक्त कार्यक्रम में सम्मिलित हुए और हवन यज्ञ में आहुति देकर धर्म लाभ उठाया उसके उपरांत औघड़ पीर श्री श्री 1008 श्री सिद्ध बाबा न्यादरनाथ जी महाराज दसवे द्वारी की समाधि पर नतमस्तक होते हुए आशीर्वाद प्राप्त किया और श्री गुरु प्रेम नाथ जी व दूरदराज से आए श्री गुरु चंद्र नाथ जी ,श्री गुरु राम नाथ जी, श्री गुरु फुल नाथ जी, आदि गुरुओं के चरणों में चरण वंदन करते हुए आशीर्वाद प्राप्त किया श्री गुरु प्रेम नाथ जी ने बताया की औघड़ पीर  श्री श्री 1008 श्री  सिद्ध बाबा  न्यादरनाथ जी महाराज दसवीं द्वारी का घोर तप करते हुए उनका दसवां द्वार खुल गया था तभी से उनका  नाम दसवे द्वारी पड़ गया था इनकी समाधि पर जो भी श्रद्धालु गण श्रद्धा पूर्वक यहां पर 41 दिन तक ज्योत जलाता है उसकी मनोकामना पूरी होती है यहां पर अनेकों सिद्ध संतों की समाधिया है उपरांत विशाल भंडारे का आयोजन किया गया जिसमें हजारों की संख्या में श्रद्धालुओं ने प्रसाद ग्रहण कर धर्म लाभ उठाया इस अवसर पर मास्टर वीरसेन, धीर सिंह ,सोमपाल, मोनू ,मुकेश, पहल ,जगदीश, जुगमिंदर प्रधान, वीरपाल, सुभाष, शिवदत्त शर्मा, आदि सेवादार उपस्थित रहे

Popular posts
चार मिले 64 खिले 20 रहे कर जोड प्रेमी सज्जन जब मिले खिल गऐ सात करोड़ यह दोहा एक ज्ञानवर्धक पहेली है इसे समझने के लिए पूरा पढ़ें देखें इसका मतलब क्या है
भाई के लिए बहन या गर्लफ्रेंड स्पेशल कोन सच्ची कहानी पूजा सिंह
Image
मत चूको चौहान*पृथ्वीराज चौहान की अंतिम क्षणों में जो गौरव गाथा लिखी थी उसे बता रहे हैं एक लेख के द्वारा मोहम्मद गौरी को कैसे मारा था बसंत पंचमी वाले दिन पढ़े जरूर वीर शिरोमणि पृथ्वीराज चौहान वसन्त पंचमी का शौर्य *चार बांस, चौबीस गज, अंगुल अष्ठ प्रमाण!* *ता उपर सुल्तान है, चूको मत चौहान
Image
दुनिया व आज के संदर्भ में भारत की तुलना छोटा बच्चा समझ जाए पर नासमझ नेता नहीं नदीम अहमद
Image
उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा सभी जिला अधिकारियों के व्हाट्सएप नंबर दिए जा रहे हैं जिस पर अपने सीधी शिकायत की जा सकती है देवेंद्र चौहान