यूपी गोरखपुर दरोगा ने थाना प्रभारी को पीटा दोनों निलंबित विभागीय जांच शुरू मेहरबान खान

 थाने में मारपीट करने वाले थाना प्रभारी और दरोगा को एसएसपी ने किया निलंबित, विभागीय जांच शुरू



गोरखपुर।उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले के सहजनवां थाने में गुरुवार को थाना प्रभारी और दरोगा के बीच हुए मारपीट के मामले में एसएसपी डॉ गौरव ग्रोवर ने कार्यवाही करते हुए थाना प्रभारी अंजुल चतुर्वेदी और दरोगा रामप्रवेश सिंह को निलंबित कर दिया है और दोनों के खिलाफ विभागीय जांच के आदेश भी दिए हैं।


 


*यह था पूरा मामला*


गुरुवार की सुबह थाना परिसर में दरोगा राम प्रवेश सिंह कुर्सी पर बैठे फरियादियों की बात सुन रहे थे। इसी दौरान थाना प्रभारी अंजुम चतुर्वेदी अपने कक्ष से निकले और किसी कार्य से दरोगा को आवाज लगाने लगे। कई बार बुलाने पर दरोगा ने ध्यान दिया तो थाना प्रभारी खुद टहलते हुए मौके पर पहुंच गए। थानेदार ने दरोगा से बात नहीं सुनने का आरोप लगाते हुए सवाल किया। जिसे लेकर दोनों में बातचीत का लहजा बिगड़ गया और मामला तुम तड़ाम तक पहुंच गया।


*दरोगा ने थाना प्रभारी को मारा थप्पड़*


 इसी दौरान दरोगा ने थाना प्रभारी को दनादन चार पांच थप्पड़ जड़ दिए।इसके बाद दोनों में जमकर लात-घूसे चले।थाने में ही थाना प्रभारी की पिटाई देखकर फरियादी सन्न रह गए।मारपीट देखकर थाने का मुंशी भाग कर पहुंचा और दरोगा को पकड़ कर दूर किया, लेकिन थाना प्रभारी और दरोगा दूर होने के बाद भी एक दूसरे को अभद्र भाषा बोलते रहे।पुलिस कर्मियों के बार-बार कहने के बाद दरोगा अपने आवास में गए और थाना प्रभारी अपने कक्ष में जाकर बैठ गए। 


थाना प्रभारी और दरोगा पर कार्रवाई


इस मामले की जानकारी जब एसपी उत्तरी मनोज कुमार अवस्थी और सीओ कैंपियरगंज अजय कुमार सिंह को हुई तो मौके पर पहुंचे और इस मामले की जांच कराई।जांच रिपोर्ट वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक डॉ गौरव ग्रोवर को भेज दिया।इसके बाद एसएसपी ने थानेदार और दरोगा पर कार्रवाई की है।

एसएससी ने कहा है कि इससे पुलिस की छवि खराब हो रही है।पुलिस जैसे अनुशासित विभाग में रहते हुए इन्होंने अनुशासनहीनता की है।

Popular posts
चार मिले 64 खिले 20 रहे कर जोड प्रेमी सज्जन जब मिले खिल गऐ सात करोड़ यह दोहा एक ज्ञानवर्धक पहेली है इसे समझने के लिए पूरा पढ़ें देखें इसका मतलब क्या है
मत चूको चौहान*पृथ्वीराज चौहान की अंतिम क्षणों में जो गौरव गाथा लिखी थी उसे बता रहे हैं एक लेख के द्वारा मोहम्मद गौरी को कैसे मारा था बसंत पंचमी वाले दिन पढ़े जरूर वीर शिरोमणि पृथ्वीराज चौहान वसन्त पंचमी का शौर्य *चार बांस, चौबीस गज, अंगुल अष्ठ प्रमाण!* *ता उपर सुल्तान है, चूको मत चौहान
Image
एक वैध की सत्य कहानी पर आधारित जो कुदरत पर भरोसा करता है वह कुदरत उसे कभी निराश नहीं होने देता मेहरबान खान कांधला द्वारा भगवान पर भरोसा कहानी जरूर पढ़ें
उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा सभी जिला अधिकारियों के व्हाट्सएप नंबर दिए जा रहे हैं जिस पर अपने सीधी शिकायत की जा सकती है देवेंद्र चौहान
यूपी अलीगढ़ पुलिस की भीषण गर्मी में ठंडी पहल रिंकू अलीगढ़
Image