जाने कौन थे सेठ चौधरी छाजूराम जी लांबा लेख विकास पवार

 अगर सेठ चौधरी छाजूराम जी लाम्बा न होते तो रहबरे आज़म चौधरी छोटूराम भी न होते

|चौधरी छाजूराम जी सिर्फ चौधरी छोटूराम के ही " गॉड फादर " नहीं , वह जाट किसान कौम के गॉड फादर थे , वह देश के आज़ादी आन्दोलन के हर क्रन्तिकारी के गॉड फादर थे | चौधरी छोटूराम के गॉड फादर थे तो जाहिर है यूनियनिस्ट पार्टी की रीढ़ थे | उस वक्त में शिक्षा की एहमियत को समझा और हमारे लोगों के लिए जाट शिक्षण संस्थाएं खुलवाई | वरना तो शिक्षा सिर्फ एक वर्ग तक ही सिमित थी |

जिस भरतपुर रियासत पर जाट नाज करते हैं , एक बार जब वह आर्थिक घाटे में थी उसको सेठ छाजूराम ने 2 लाख रूपये की आर्थिक सहायता प्रदान कर उभारने में मदद की | शहीदे आज़म भागत सिंह जब फरारी पर कलकत्ता गए तो सेठ जी की ही कोठी पर ठहरे थे और उसके बाद सेठ जी ने उन्हें कलकत्ता में ही खुद के द्वारा बनवाए आर्य समाज मंदिर में शिफ्ट कर दिया | 10 जाट पलटन जो कलकत्ता में पोस्टेड थी उसके जवानों ने बगावत कर दी थी और बगावत का कारण सेठ जी की कोठी थी | पलटन के जवान सेठ जी की कोठी पर हुक्का पीने आते थे और सेठ जी की कोठी पर आज़ादी आन्दोलन के क्रन्तिकारी आते जाते रहते थे जिनका प्रभाव इन जवानों पर पड़ा पर इनके इस बगावत की मुखबरी हो गई इस लिए अंजाम नहीं दे पाए | इतना बड़ा दानवीर शिरोमणि कि जिसके नाम पर कहावत बन गई थी कि ईसा के अलखपुरिया छाजूराम सै |

सोचने वाली बात है कि इतनी बड़ी हस्ती , जिसने सबको दिया ही दिया पर बदले में इनको क्या दिया ?

Popular posts
चार मिले 64 खिले 20 रहे कर जोड प्रेमी सज्जन जब मिले खिल गऐ सात करोड़ यह दोहा एक ज्ञानवर्धक पहेली है इसे समझने के लिए पूरा पढ़ें देखें इसका मतलब क्या है
13 दिसंबर स्वामी विद्यानंद गिरी महाराज की पुण्यतिथि प्रवर्तन योद्धा मोहन जोशी के जन्मदिन पर विशेष महावीर संगल जी
Image
राष्ट्रीय लोक शिकायत जांच आयोग के वाइस चेयरमैन बने उपेंद्र चौधरी
Image
अकबर महान पढा पर एक सच्चाई जो छुपाई गई देखें इस लेख में पवन सिंह तरार
Image
सावधान देश को अन देने वाला किसान सम्मान देने वाला पहलवान दोनों की आंखों में आंसू गैरों पे करम अपनों पर सितम
Image